24 जैन तीर्थंकराें के चिह्नों वाला गेट:भीलवाड़ा के 65 कारीगरों ने 23 दिन में बनाया 32 फीट ऊंचा 8 टन वजनी गेट

झालावाड़5 महीने पहलेलेखक: विनय जैन
  • कॉपी लिंक
भीलवाड़ा में निर्मित यह गेट हैंडिक्राफ्ट इंडस्ट्रीज द टेंपल डोर फैक्ट्री ने तैयार किया है। इसको भीलवाड़ा में पवन आर्या और उनके 65 कारीगराें की टीम ने 23 दिन में तैयार किया है। - Dainik Bhaskar
भीलवाड़ा में निर्मित यह गेट हैंडिक्राफ्ट इंडस्ट्रीज द टेंपल डोर फैक्ट्री ने तैयार किया है। इसको भीलवाड़ा में पवन आर्या और उनके 65 कारीगराें की टीम ने 23 दिन में तैयार किया है।

चंद्रोदय तीर्थ क्षेत्र चांदखेड़ी में 6 दिवसीय पंचकल्याण महोत्सव का आगाज मंगलवार को गर्भ कल्याण से होगा। समारोह में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए विशेष 32 फीट का विशाल द्वार बनाया जा रहा है, जो इस समारोह का मुख्य आकर्षण होगा। मैसूर की काली शीशम की लकड़ी से निर्मित 32 फीट ऊंचा व सवा 16 फीट चौड़ा यह द्वार चंद्राेदय तीर्थ के कुबेर द्वार पर लगेगा। इसका निर्माण भीलवाड़ा में किया गया है।

तीर्थ कमेटी के अध्यक्ष हुकम जैन काका ने बताया कि भीलवाड़ा में निर्मित यह गेट हैंडिक्राफ्ट इंडस्ट्रीज द टेंपल डोर फैक्ट्री ने तैयार किया है। इसको भीलवाड़ा में पवन आर्या और उनके 65 कारीगराें की टीम ने 23 दिन में तैयार किया है। इसमें बहुत ही बारीक कारीगरी की गई है। इसका वजन 8 टन के करीब है। यह मंगलवार सुबह चांदखेड़ी पहुंच जाएगा और सुबह जल्द ही श्रद्धालुओं के स्वागत में खड़ा कर दिया जाएगा।