पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

तंत्र विद्या की यूनिवर्सिटी:दहलनपुर...11वीं शताब्दी में यहां थी तंत्र विद्या की यूनिवर्सिटी, पुरा संंपदा के जीर्णोद्धार के लिए सरकार ने खर्च की 2.5 करोड़ की राशि

झालावाड़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ध्यान-साधना के लिए थे 100 कमरे, जो बाद में उजड़ गया था, अब सुरक्षा व्यवस्था के लिए होम गार्ड के जवान तैनात

दहलनपुर में मठ और मंदिर आज भी पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। कभी यह स्थान तंत्र विद्या की यूनिवर्सिटी थी। यहां पर तांत्रिक तैयार होते थे। दो किमी क्षेत्र में बसे हुए दहलनपुर में प्राचीन मठ और मंदिर तो हैं ही, साथ ही ध्यान, साधना के लिए 100 कमरे भी थे, जो दशकों गुजर जाने के बाद आज भी अपने वैभव की कहानियां बयां करते हैं। फिलहाल यहां पर पुरा संपदा को संवारने के लिए सरकार ने करीब ढाई करोड़ रुपए की लागत से इसका जीर्णोद्धार करवाया। सुरक्षा व्यवस्था के लिए होम गार्ड के जवान तैनात रहते हैं।इतिहासकारों का कहना है कि यहां पर शैव, जैन, हिंदू धर्म की प्राचीन मूर्तियां मौजूद हैं, जो शिल्पकला का बेहतरीन नमूना हैं। तंत्र विद्या के लिए खुला वातावरण, नदी, पहाड़ होने चाहिए, इस स्थान पर वह सब मौजूद था। इसी कारण इसको तंत्र विद्या का केंद्र बनाया गया था। यहां पास ही छापी बांध है। इसी तरह पहाड़ों के बीच में यह स्थान आकर्षण का केंद्र बनता है। यहां पर तांत्रिक क्रियाओं वाली नागा, साधु अघोरी सहित अन्य प्रकार की मूर्तियां भी मौजूद हैं। इतिहासविद ललित शर्मा का कहना है कि दहलनपुर तंत्र साधना का केंद्र रहा है। यहां पर तांत्रिकों के अराध्य शिव और भैरव की मूर्तियां मौजूद हैं। किसी समय में हाड़ौती और मालवा क्षेत्र में तंत्र साधना का यह एक बड़ा केंद्र रहा है। शर्मा बताते हैं कि गैलाशाह नामक व्यक्ति ने इस स्थान की स्थापना की थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें