पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वापसी:सख्ती के बाद काम पर लौटे स्वास्थ्यकर्मी सैटेलाइट अस्पताल में 38 मरीज हुए भर्ती

झालावाड़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चिकित्सा विभाग की सख्ती के बाद दो दिन में स्वास्थ्यकर्मियों ने सैटेलाइट अस्पताल में ड्यूटी ज्वाइन कर ली है। इसके बाद अस्पताल में कोरोना मरीजों को भर्ती करना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को यहां 38 मरीज भर्ती थे और सभी ऑक्सीजन पर थे। जल्द ही यहां इमरजेंसी सेवाएं भी प्रारंभ की जाएंगी, ताकि गंभीर मरीज आने पर उसका भी इलाज हो सके।

चिकित्सा विभाग ने सैटेलाइट अस्पताल को शुरू करने के लिए यहां नर्सिंगकर्मियों सहित अन्य लोगों की ड्यूटी लगाई थी, लेकिन इन कर्मचारियों ने ड्यूटी ज्वाइन नहीं की। कुछ कर्मचारियों ने तो सिफारिश भी लगवाई। सीएमएचओ ने सैटेलाइट अस्पताल का निरीक्षण किया तो कर्मचारियों ने ज्वाइन ही नहीं किया था।

इस पर सभी कर्मचारियों नोटिस जारी कर गुरुवार सुबह 11 बजे तक ड्यूटी ज्वाइन नहीं करने पर जयपुर एपीओ करने की चेतावनी दी। इसके बाद कर्मचारियों ने ड्यूटी ज्वाइन की। इस पर गुरुवार शाम से ही यहां मरीजों को लाना शुरू कर दिया।

जल्दी ही मिलेगी इमरजेंसी सेवाएं, बेड भी बढ़ेंगे

सीएमएचओ डॉ. साजिद खान ने बताया कि सैटेलाइट अस्पताल में जल्द ही इमरजेंसी सेवाएं भी शुरू कर दी जाएंगी। इसके बाद यहां गंभीर मरीजों का भी इलाज प्रारंभ हो जाएगा। साथ ही यहां कोरोना मरीजों के लिए 100 बेड का अस्पताल तैयार होगा। फिलहाल यहां 50 बेड लग चुके हैं, शेष बेड भी जल्द ही लगाए जाएंगे।

झालावाड़ को मिली 18 टन लिक्विड ऑक्सीजन

​​​​​​​कोराना मरीजों के लिए वर्तमान में ऑक्सीजन की काफी आवश्यकता है। शुक्रवार को झालावाड़ को 18 टन ऑक्सीजन मिली है। सिया गैस के संचालक पुष्पेंद्र अग्रवाल ने बताया कि जामनगर से लिक्विड ऑक्सीजन का टैंकर आया है। इसमें 12 टन 40 किलो ऑक्सीजन मिली है, जबकि भिवाड़ी से आए टैंकर में 6.6 टन ऑक्सीजन मिली है। इससे कोरोना मरीजों को निर्बाध रूप से ऑक्सीजन उपलब्ध हो सकेगी।

खबरें और भी हैं...