कोर्ट का आदेश / जेवीवीएनएल क्षतिपूर्ति के रूप में देगा 60 लाख 92 हजार 968 रुपए

X

  • एएसआई की ड्यूटी के दौरान करंट से हुई थी मौत

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 08:03 AM IST

झालावाड़. घातक दुर्घटना के लगभग डेढ़ वर्ष पुराने मामले में कोर्ट ने जेवीवीएनएल को क्षतिपूर्ति के रूप में मृतक के परिजनों को 60 लाख 92 हजार 968 रुपए मय ब्याज के देने के आदेश दिए है। 

प्रकरण में 29 जून 2018 को सुबह 8 बजे मृतक पिड़ावा थाने में कार्यरत एएसआई कमलसिंह  अपनी ड्यूटी करते हुए वारंटियों की तलाश करते हुए कोटड़ा बस स्टैंड पहुंचे, जहां नारायणसिंह की गुमटी की तरफ लोगों से वारंटियों के बारे में पूछताछ कर रहे थे, उसी समय अचानक करंट फैलने से कमलसिंह की मृत्यु हो गई।

जिस स्थान पर उसकी मौत हुई स्थान पर 11 केवी विद्युत लाइन थी जिसे ठीक ढंग से सही नहीं करके कटी हुई लाइन को शीशम के पेड़ के ऊपर छोड़ दिया, जिसकी वजह से आस-पास के इलाके में करंट फैल गया तथा वहां अपनी ड्यूटी कर रहे एएसआई की विद्युत प्रवाह होने से मृत्यु हो गई। 
इस मामले में जिला एवं सेशन न्यायाधीश अतुल कुमार सक्सेना ने फैसला सुनाते हुए  चेतना राठौर सहित 4 वादीगण को जेवीवीएनएल एईएन पिड़ावा  से 60 लाख 92 हजार 968 रुपए क्षतिपूर्ति राशि देने और साथ ही वाद प्रस्तुत करने की दिनांक 13 मार्च 2019 से तावसूली तक 7.5 प्रतिशत वार्षिक की दर से बयाज अदा करने के आदेश जारी किए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना