पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रतिभा:पॉलिटेक्निक स्टूडेंट ने बनाया रोबोट, भोजन, पानी और दवाइयां तक देगा

झालावाड़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
झालावाड़ रोबोट के साथ पॉलिटेक्निक स्टूडेंट स्वप्निल। - Dainik Bhaskar
झालावाड़ रोबोट के साथ पॉलिटेक्निक स्टूडेंट स्वप्निल।
  • मात्र 6 हजार का आया खर्च, मोबाइल के जरिए घर के किसी भी काैने से हो सकता है ऑपरेट, मेहमानाें का स्वागत भी करेगा

झालावाड़ पॉलिटेक्निक कॉलेज के स्टूडेंट स्वप्निल ने कोरोनाकॉल में एक ऐसा रोबोट बनाया है जो मोबाइल के एक क्लिक में किसी को भी भोजन, पानी से लेकर दवाइयां तक दे सकता है। यह रोबोट मोबाइल से कंट्रोल होगा। घर में केवल मोबाइल के एक इशारे पर रोबोट चाय लेकर आ जाता है, तो मेहमान आने पर वह उनके स्वागत में भी तैयार रहता है। इस रोबोट को तैयार करने में मात्र छह हजार रुपए का खर्च आया है। स्वप्निल ने जुगाड़ से यह रोबोट तैयार किया है। इसमें आईपी कैमरा, वाईफाई चिप, केयर मोटर, 12 वोल्ट की बैट्री, ब्लूटूथ, डीसी कंट्रोलर व स्पीकर लगाए हैं। इसी तरह इसका बाहरी स्ट्रक्चर बनाने के लिए डमी का यूज किया है। पॉलिटेक्निक कॉलेज के कंप्यूटर साइंस के सुनील सहित अन्य प्रोफेसरों ने भी इस राेबाेट काे तैयार करने में सहयोग किया है।

जानिए...कैसे और क्या काम कर सकेगा रोबोट

रोबोट मोबाइल से सिग्नल मिलते ही तुरंत घर में आए मेहमान को पानी, चाय, भोजन ला सकता है। इसी तरह होटल, रेस्टोरेंट में भी यह वेटर की तरह काम कर सकता है। इसी तरह ऑफिसों में डॉक्यूमेंट शेयर करने तक काम काम इससे किया जा सकता है। एप के माध्यम से इस रोबोट के एप्लीकेशंस को मोबाइल में इंस्टॉल करना पड़ता है। उसके बाद आईडी पासवर्ड के माध्यम से इसे संचालित किया जा सकता है। अभी इसमें कई एप्लीकेशंस डाउनलोड करने का काम चल रहा है।

इसलिए राेबाेट की जरूरत महसूस हुई स्वप्निल का कहना है कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण चल रहा है। इससे लोग अपने परिजनों के पास जाने से भी घबरा रहे हैं। इसी को देखते हुए उन्हाेंने ऐसा रोबोट तैयार करने का मानस बनाया, ताकि उसके माध्यम से संबंधित मरीज को दवाइयां, भोजन, पानी, फल-फ्रूट दिए जा सके। इससे दूसरों में संक्रमण फैलने का खतरा भी नहीं रहता है। उनका कहना है यह काफी कम लागत में तैयार हो गया है।

खबरें और भी हैं...