निजी स्कूलों से वसूलेंगे एग्जाम फीस:5वीं की परीक्षा के लिए स्कूल संचालकों को देना होगा शुल्क, बच्चों से नहीं वसूल सकेंगे

झालावाड़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राज्य सरकार निजी स्कूलों से 5वीं की परीक्षा के लिए एग्जाम फीस वसूलेगी। - Dainik Bhaskar
राज्य सरकार निजी स्कूलों से 5वीं की परीक्षा के लिए एग्जाम फीस वसूलेगी।

राज्य सरकार निजी स्कूलों से 5वीं की परीक्षा के लिए एग्जाम फीस वसूलेगी। प्राइवेट स्कूल मूल्यांकन यानी परीक्षा व्यवस्था शुल्क ₹40 प्रति बच्चे की दर से लिया जाएगा। यह राशि अब स्टूडेंट से नहीं प्राइवेट स्कूल संचालकों से वसूल की जाएगी।

जिले में 491 निजी स्कूल हैं, जिनमें 5वीं कक्षा में 8345 स्टूडेंट पढ़ रहे हैं। प्राइवेट स्कूल मूल्यांकन यानी परीक्षा व्यवस्था शुल्क ₹40 प्रति बच्चे की दर से लिया जाएगा। यह राशि अब स्टूडेंट से नहीं प्राइवेट स्कूल संचालकों से वसूल की जाएगी। इस आदेश को लेकर प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन भी नाराजगी जाहिर कर रही है। वहीं, दूसरी और डाइट के प्रभारी सुनील गुप्ता ने बताया कि निजी स्कूल संचालक यह राशि छात्रों से नहीं वसूलेंगे। संस्था प्रधानों को ही यह राशि जमा करानी होगी।

निदेशालय से इस तरह के आदेश मिले हैं। संबंधित स्कूल की ओर से अध्यक्ष डाइट विकास समन्वय समिति के नाम से राशि डीडी के माध्यम से डाइट में जमा करानी होगी। वहीं, दूसरी ओर सरकारी स्कूलों के संस्था प्रधानों को इस आदेश से मुक्त रखा गया है।