प्रिंसिपल ने लेक्चरर और वार्डन दंपती से की मारपीट:स्टूडेंट बोले- बाहरी लोगों को बुलाकर शराब पार्टी करते हैं प्रिंसिपल, नशे में करते हैं हंगामा

झालावाड़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजकीय आवासीय स्कूल के छात्रों ने हंगामा किया और नारेबाजी करते हुए छात्रावास के गेट पर धरने पर बैठ गए। - Dainik Bhaskar
राजकीय आवासीय स्कूल के छात्रों ने हंगामा किया और नारेबाजी करते हुए छात्रावास के गेट पर धरने पर बैठ गए।

झालावाड़ जिले के झालरापाटन शहर में राजकीय आवासीय स्कूल के प्रिंसिपल रामगोपाल मीणा ने शुक्रवार देर रात आवासीय विद्यालय में शराब पीकर अपने साथियों के साथ जमकर उत्पात मचाया। प्रिंसिपल ने सूचना पर मौके पर पहुंचे लेक्चरर और वार्डन के साथ भी मारपीट की। इस दौरान लेक्चरर के हाथ की अंगुलियां चबा डाली। प्रिंसिपल ने नशे में वार्डन की पत्नी के साथ भी अभद्रता की। लेक्चरर और वार्डन ने झालरापाटन पुलिस थाने में प्राचार्य और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। वार्डन ने प्रिंसिपल पर स्कूल परिसर में बाहर के लोगों को बुलाकर शराब पार्टी और अनैतिक काम करने के आरोप लगाए।

पीड़ित वार्डन मुख्तार अली ने बताया कि शुक्रवार रात वह अपने छात्रावास क्वार्टर पर था। उसी दौरान प्रिंसिपल रामगोपाल, लेक्चरर कोमल मीणा और कुक रामबाबू शराब के नशे में लाठियां लेकर गाली-गलौज करते हुए आए। उसने खुद को कमरे में बंद कर अपनी पत्नी रिजवाना को सूचना दी, जो लेक्चरर सौरभ परिहार को लेकर आवासीय स्कूल के छात्रावास पहुंची। जैसे ही मुख्तार बाहर निकला तो रामगोपाल और 2 अन्य लोगों ने मारपीट की और सौरभ परिहार का हाथ चबाकर लहूलुहान कर दिया। उसकी पत्नी रिजवाना के भी कपड़े खींचे। इस दौरान छात्रों ने बीच-बचाव कर उनको छुड़ाया।

छात्रावास के गेट पर धरने पर बैठे छात्र
पूरे मामले को लेकर शनिवार को राजकीय आवासीय स्कूल के छात्रों ने हंगामा किया और नारेबाजी करते हुए छात्रावास के गेट पर धरने पर बैठ गए। छात्रों ने आरोपी प्रिंसिपल और उसके साथियों को तुरंत निलंबित कर हटाने की मांग की है। आवासीय स्कूल के छात्रों का कहना है कि आवासीय स्कूल के लिए आए हुए 5 लाख से अधिक के बजट से आरोपी प्रिंसिपल कमीशन खाना चाहता है, जबकि दूसरा स्टाफ इसके लिए तैयार नहीं है। प्रिंसिपल रामगोपाल मीणा आए दिन बाहरी तत्वों को बुलाकर उनके साथ शराब पार्टी करता है।

छात्रों ने प्रिंसिपल पर लगाया आरोप
मामले की जानकारी मिलने पर जिला परिषद सीईओ श्रीनिधि बीटी और उपखंड अधिकारी सुरेश हरसोलिया मौके पर पहुंचे और छात्रों से बात कर उनके बयान लिए। छात्रों ने आवासीय स्कूल के प्रिंसिपल पर आए दिन शराब पार्टी कर उत्पात मचाने का आरोप लगाया। अधिकारियों ने सख्त एक्शन देने का भरोसा दिलाया है। झालरापाटन थाना पुलिस ने प्रिंसिपल का मेडिकल मुआयना करवाया और जांच में जुट गई है। प्रिंसिपल रामगोपाल ने कहा कि वह स्कूल की व्यवस्थाओं में सुधार करना चाहता है, लेकिन पुराना स्टाफ छात्रों को भड़काकर उसके खिलाफ कर रहा है।