ज्याेतिष:सबसे छाेटा दिन 21 काे, इसी दिन से सूर्य का उत्तरायण काल

झालावाड़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 21 दिसंबर काे दिन 10 घंटे 40 मिनट 14 सैकंड व रात 13 घंटे 20 मिनट 15 सैकंड की हाेगी

साल का सबसे छाेटा दिन 21 दिसंबर काे रहेगा। अभी 21 दिसंबर तक राेज 58 से 50 सैकंड तक दिन का समय घटता जाएगा व रात का समय बढ़ता जाएगा। 21 दिसंबर काे 10 घंटे 40 मिनट और 14 सैकंड का दिन व 13 घंटे 20 मिनट और 15 सैकंड की रात रहेगी। इसी दिन से सूर्य का उत्तरायण शुरू हाेगा। हालांकि ज्याेतिष के अनुसार 14 जनवरी मकर संक्रांति से सूर्यदेव का उत्तरायण काल माना जाएगा। पंडितों के अनुसार हकीकत में सूर्य के उत्तरायण की गति 22 दिसंबर से जाना शुरू हाे जाती है। दिन का समय घटने और रात का समय बढ़ने का क्रम 21 दिसंबर के चार दिन बाद यानी 25 दिसंबर से ही फिर से बदलने लगेगा।

वापस रात छाेटी हाेने लगेगी। दिन का समय बढ़ना शुरू हाे जाएगा। दिन घटने और रात बढ़ने से अगले 14 दिन में करीब 3 मिनट और 36 सैकंड का अंतराल अाएगा।21 दिसंबर से ही सूर्यदेव का उत्तरायण में प्रवेश शुरू हाे जाएगा। ज्योतिषियों ने बताया कि शास्त्राें में मकर संक्रांति के बाद से उत्तरायण माना जाएगा। सूर्य के उत्तरायण हाेते ही देवताओ के दिन व असुराें की रात शुरू हाे जाती है। महाभारत में उल्लेख है कि भीष्म ने सूर्य के उत्तरायण हाेने पर ही प्राण त्याग किए थे।

खबरें और भी हैं...