रावण दहन:विजयादशमी आज, लगातार दूसरा मौका जब नहीं होगा रावण दहन

झालावाड़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विजयादशमी का पर्व शुक्रवार को जिलेभर में मनाया जाएगा। कोरोना गाइडलाइन के चलते इस बार भी जिले में कहीं रावण दहन नहीं होगा। इसके लिए कलेक्टर ने निर्देश जारी कर दिए हैं। पिछले साल भी रावण दहन पर रोक लगाई गई थी। इस बार भी भीड़ जुटने की संभावनाओं को देखते हुए रावण दहन नहीं किया जाएगा। कोरोना संक्रमण की तीसरी संभावित लहर को देखते हुए सरकार ने गाइड लाइन जारी की है। इसमें मेले, जुलूस सहित अन्य पर रोक लगाई गई है। हालांकि अभी तक जिले में एक भी स्थान से रावण दहन की परमिशन के लिए जिला प्रशासन के पास कोई आवेदन नहीं आया है। इसलिए प्रशासन का मानना है कि कहीं भी रावण दहन नहीं हो रहा है फिर भी कोई बिना परमिशन के दहन करता है तो उन पर कार्रवाई के लिए भी प्रशासन तैयारी कर रहा है।

यहां झालरापाटन में दशहरा पर्व पर विभिन्न व्यायामशालाओं के पहलवानों ने प्रदर्शन और शोभायात्रा की स्वीकृति मांगी थी, लेकिन कलेक्टर ने इनको भी परमिशन नहीं दी है।हर साल विजयादशमी के मौके पर नगरीय निकायों की ओर से भी रावण के पुतले बनवाए जाते थे। इनमें दहन के लिए नगरीय निकाय ही इंतजाम करती हैं, लेकिन यह लगातार दूसरा साल है जब यह आयोजन नहीं हो पा रहा है।^गृह विभाग की ओर से जुलूस, मेलों सहित कार्यक्रमों पर रोक है। इसी को देखते हुए रावण दहन भी जिले में कहीं नहीं होगा। अभी तक किसी ने परमिशन के लिए आवेदन भी नहीं किया है।-हरिमोहन मीना, कलेक्टर

खबरें और भी हैं...