त्योहार / महिलाओं ने रखा सावित्री व्रत, वट वृक्ष के चारों ओर लगाई परिक्रमा

Women kept Savitri fast, orbiting around Vat tree
X
Women kept Savitri fast, orbiting around Vat tree

  • महिलाओं ने सोलह शृंगार कर वट वृक्ष की जड़ों में जल का अर्ध्य देकर पूजा की, पति की दीर्घायु की मंगल कामना की

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 08:03 AM IST

भवानरमंडी. शहर में ज्येष्ठ माह की अमावस्या के अवसर पर महिलाओं ने अखंड सौभाग्य की प्राप्ति काे लेकर सावित्री व्रत रखा। इस दौरान महिलाओं ने सोलह शृंगार कर वट वृक्ष की जड़ों में जल का अर्ध्य देकर पूजा की। पूष्प, रोली, कच्चा सूत, भीगा चना, गुड़ इत्यादि चढ़ाकर वृक्ष के चारो और सूत लपेट कर परिक्रमा की। इस दौरान महिलाओं ने अपने पति की दीर्घायु की मंगल कामना की।
डग. कस्बे के भेरू महाराज मंदिर प्रांगण में स्थित वट वृक्ष की पूजा अर्चना की। महिलाओं ने वृक्ष की परिक्रमा कर वट सावित्री व्रत की कहानी का श्रवण किया। महिलाओं के कथनानुसार यह व्रत सुहाग की मंगल कामना के लिए किया जाता है। वह इस कोरोना महामारी में अपने सुहाग को कोई आंच ना आए और परिवार में सुख समृद्धि का वास हो साथ ही पूजा-अर्चना व कहानी के दौरान महिलाओं ने वट वृक्ष के पत्तों को घणो के रूप में शरीर पर धारण किया। उन्हीं पत्तों से जल का सेवन किया।
डग. कस्बे के भैरू महाराज मंदिर प्रांगण में शुक्रवार को महिलाओं ने वट सावित्री का व्रत रखा। इस दौरान महिलाओं ने वृक्ष की परिक्रमा कर सावित्री व्रत की कहानी का श्रवण किया। सुहाग की लंबी अायु की मंगल कामना की। पूजा अर्चना के साथ महिलाओं ने वटवृक्ष के पत्तों को गहनो के रूप में शरीर पर धारण किया, उन्हीं पत्तों से जल का सेवन किया।
झालरापाटन. शहर में सुहागिन महिलाओं द्वारा अमर सुहाग की कामना और पति की लंबी आयु के लिए शुक्रवार को वट सावित्री का व्रत किया। इस दाैरान महिलाअाें ने साेशल डिस्टेंस के साथ वट वृक्ष की परिक्रमा भी लगाई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना