झालरापाटन के आवासीय विद्यालय में विवाद:छात्रों का आरोप- प्रधानाचार्य, व्याख्याता और कुक ने शराब के नशे में वार्डन को पीटा, कार्रवाई के लिए विद्यार्थियों ने दिया धरना

झालरापाटन4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झालरापाटन के राजकीय आवासीय विद्यालय में आज छात्र हंगामा करते हुए प्रदर्शन कर धरने पर बैठ गए। छात्र यह विरोध प्रदर्शन विद्यालय के प्रधानाचार्य और एक व्याख्याता द्वारा रात को नशे में किए गए मारपीट के खिलाफ कर रहे थे।

दरअसल, कल देर रात विद्यालय के प्रधानाचार्य रामगोपाल मीणा, व्याख्याता कोमल मीणा और कुक रामबाबू शराब के नशे में लाठियां लेकर हॉस्टल पहुंच गए थे। उन्होंने वहां वार्डन मुख्तार अली, उनकी पत्नी और एक अन्य व्याख्याता सौरभ परिहार के साथ गाली-गलौज करते हुए मारपीट की।

इस मामले में देर रात ही पुलिस ने प्रधानाचार्य को हिरासत में ले लिया था, लेकिन पूछताछ के बाद छोड़ दिया। इससे आज सुबह छात्र आक्रोशित हो गए और विद्यालय परिसर में जमकर हंगामा करते हुए धरने पर बैठ गए। घटना की जानकारी मिलते ही उपखंड अधिकारी और पुलिस उपाधीक्षक मौके पर पहुंचे और छात्रों को समझाया।

साथ ही दोनों अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि इस मामले में जांच के दौरान जो भी लोग दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...