पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अब यह होगा:10 सालों में यह पहला मौका; जब नगर में सबसे बड़ी भगवान पशुपतिनाथ की शाही सवारी नहीं निकलेगी

झालरापाटन12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंदिर परिसर में ही भगवान को रथ पर विराजित कर अभिषेक करेंगे

झालरापाटन। सावन में होने वाले धार्मिक आयोजन पर भी कोरोना ने ग्रहण लगा दिया है। हर साल नगर में सावन के अंतिम सोमवार पर भगवान पशुपतिनाथ की शाही निकाली जाती है, लेकिन इस वर्ष 3 अगस्त को निकलने वाली शाही सवारी नगर में नहीं निकलेगी। 10 सालों में यह पहला मौका होगा जब नगर में सबसे बड़ी भगवान पशुपतिनाथ की शाही सवारी नहीं निकाली जाएगी।मंडल अध्यक्ष सुरेश शर्मा ने बताया कि परंपरा के अनुसार मंदिर परिसर में ही भगवान को रथ पर विराजित कर पंडितों द्वारा अभिषेक किया जाएगा। सावन में हर वर्ष आस्था के केंद्र भगवान पशुपतिनाथ मंदिर में हजारों भक्त पहुंचते हैं। हर सोमवार को जिले के विभिन्न क्षेत्रों सहित मध्यप्रदेश के अन्य जिलों से कई कावड़ यात्राएं झालरापाटन पशुपतिनाथ मंदिर पहुंचती हैं।हर साल सावन के अंतिम सोमवार पर भगवान पशुपतिनाथ को शाही पालकी में विराजित कर नगर में शाही सवारी निकाली जाती है। इसमें उज्जैन से कलाकारों को बुलाया जाता है, लेकिन इस साल कोरोना संक्रमण का असर शाही सवारी पर भी दिखाई दे रहा है। मंदिर समिति के मनीष बाबा ने बताया कि इस बार कोरोना संक्रमण के चलते नगर में पालकी नहीं निकाली जाएगी। इससे भीड़ एकत्र होगी व संक्रमण का खतरा भी बढ़ेगा, इसलिए प्रशासन की गाइडलाइन के अनुसार भगवान का अभिषेक व शृंगार करेंगे। परंपरा न टूटे इसके लिए 3 अगस्त को भगवान की पूजा-अर्चना कर शाही पालकी में विराजित किया जाएगा। वहीं भीड़भाड़ न हो इसलिए परंपरा के अनुसार पंडितों द्वारा चन्द्रभागा नदी गंगा मैया को 61 मीटर चुनरी अर्पित कर 51 दीपकों से आरती की जाएगी।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें