पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छावनी इलाके में ओले भी गिरे:21 साल बाद मई में अब तक रिकाॅर्ड 59.8 एमएम बारिश, 42 किमी/घंटे की रफ्तार से आंधी-बरसात, पेड़-खंबे टूटे, बिजली बंद

काेटा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शनिवार को दोपहर बाद अचानक माैसम बदल गया। शाम काे 4. 40 बजे से शाम 5.10 बजे तक तूफान के साथ और बारिश हुई। छावनी क्षेत्र में ओले भी गिरे। 30 मिनट तक 42 किमी प्रति घंटे की र‌फ्तार से आंधी और 6.6 एमएम बरसात से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। इससे कई इलाकाें में टिन-टिप्पर उड़ गए तो कहीं पेड़ और दीवार तक गिर गई।

बिजली की हाईटेंशन लाइन के पाेल गिर गए ताे कहीं बिजली के तार टूट गए। इससे आधे शहर की बिजली बंद हो गई। रेलवे काॅलाेनी थाना इलाके में दीवार गिरने से 14 वर्षीय बालक मोहम्मद नवाज गंभीर घायल हाे गया। विज्ञाननगर, केशवपुरा, डीसीएम राेड, रेलवे स्टेशन, छावनी सहित अन्य इलाकाें में आंधी बारिश का ज्यादा असर रहा। शनिवार काे अधिकतम पारा 42.5 और न्यूनतम 30.9 डिग्री रहा। जबकि शुक्रवार काे अधिकतम पारा 43.3 और न्यूनतम 29.5 डिग्री रिकाॅर्ड किया।

वर्ष 2000 में मई में 72.4 एमएम बारिश का रिकाॅर्ड: माैसम विभाग के अनुसार वर्ष 2000 में अब तक मई में कुल बारिश का रिकाॅर्ड 72.4 एमएम रहा है। जबकि अब तक मई में 59.8 एमएम बारिश हाे चुकी है।
आगे क्या? : विभाग के अनुसार रविवार काे भी कुछ इलाकाें में आंधी-बारिश की संभावना है। 31 मई काे पश्चिमी विक्षाेभ से आंधी-बरसात के माैसम की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...