पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Bus Owners Opened A Front Demanding Tax Waiver And Fare Hike, Staged A Sit in Outside RTO Office, Handed Over The Keys Of The Bus, Warned To Go On Strike From 26 Kota Rajasthan

बस ऑपरेटर्स का हल्लाबोल प्रदर्शन:टैक्स माफी व किराया बढ़ाने की मांग, RTO ऑफिस के बाहर धरना दिया, बस की चाबियां सौपी, 26 से हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी

कोटा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सभी ऑपरेटर्स ने बस की चाबियां अधिकारी को सौप दी - Dainik Bhaskar
सभी ऑपरेटर्स ने बस की चाबियां अधिकारी को सौप दी

कोटा में निजी बस मालिकों ने राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बस ऑपरेटर्स ने टैक्स माफी, किराया वृद्धि सहित चार सूत्रीय मांगों को लेकर RTO ऑफिस पर प्रदर्शन किया। बस ऑपरेटर धरने पर बैठ गए। बाद में सभी ऑपरेटर्स ने बस की चाबियां अधिकारी को सौप दी। और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपा। बस मालिक संघ ने मांगे पूरी नहीं होने पर 26 जुलाई से प्रदेशभर में हड़ताल की चेतावनी दी है।

बस ऑपरेटर्स ने टैक्स माफी, किराया वृद्धि सहित चार सूत्रीय मांगों को लेकर RTO ऑफिस पर प्रदर्शन किया
बस ऑपरेटर्स ने टैक्स माफी, किराया वृद्धि सहित चार सूत्रीय मांगों को लेकर RTO ऑफिस पर प्रदर्शन किया

यूनियन के प्रदेश महासचिव सत्यनारायण साहू ने बताया कि कोरोना काल में बस मालिकों की आर्थिक हालात खराब है। टैक्स तो क्या फाइनेंस की किश्त भरने की भी हिम्मत नहीं बची है। उसके बाद भी सरकार 40 से 80 हजार रुपए के ऑन लाइन चालान बनाकर भेज रही है। ये चालान कोरोना काल में मजदूरों व स्टूडेंट्स को अपने घरों में छोड़ने गई बसों के बनाए जा रहे है। जबकि उस दौरान बस मालिकों को केवल डीजल के पैसों में यूपी, हरियाणा, बिहार, पंजाब, महाराष्ट्र भेजा गया था। बस मालिको ने सामाजिक सरोकार निभाते हुए सरकार की मदद की थी।कोई कमाई नहीं की थी। आज जब फिटनेस बनाने ऑफिस जा रहे है तबके ऑन लाइन चालान भेजे जा रहे है।

बस मालिक संघ ने मांगे पूरी नहीं होने पर 26 जुलाई से प्रदेशभर में हड़ताल की चेतावनी दी है।
बस मालिक संघ ने मांगे पूरी नहीं होने पर 26 जुलाई से प्रदेशभर में हड़ताल की चेतावनी दी है।

साहू ने बताया कि जब डीजल 42 रुपए लीटर था। उस समय किराया तय किया गया था। आज डीजल 100 रुपए लीटर हो गया है। लेकिन किराया नहीं बढ़ाया गया। टैक्स माफी, किराया बढ़ाने,बसे सरेंडर व आर्थिक पैकेज की मांग को लेकर बस मालिक संघ कई महीनों से आंदोलन कर रहा है। लेकिन सुनवाई नहीं हो रही। मजबूरन 26 जुलाई से बस मालिक हड़ताल करेंगे।

खबरें और भी हैं...