पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Case Registered Against BJP MLA Madan Dilawar And Others Under Sections 188, 269, 270 Epidemic Act, All party Outrage Rally Was Taken Out In Ramganjmandi Under The Leadership Of Dilawar Kota Rajasthan

धारा 144 के उल्लंघन पर कार्रवाई:BJP विधायक मदन दिलावर सहित अन्य के खिलाफ धारा 188, 269, 270 महामारी एक्ट में तहत मामला दर्ज, दिलावर के नेतृत्व रामगंजमंडी में निकाली गई थी सर्वदलीय आक्रोश रैली

कोटा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दिलावर के नेतृत्व रामगंजमंडी में निकाली गई थी सर्वदलीय आक्रोश रैली - Dainik Bhaskar
दिलावर के नेतृत्व रामगंजमंडी में निकाली गई थी सर्वदलीय आक्रोश रैली

ग्रामीण पुलिस ने बीजेपी विधायक मदन दिलावर सहित अन्य के खिलाफ लॉक डाउन धारा 144 के आदेशों की अवहेलना करने पर मामला दर्ज किया है। ग्रामीण एसपी शरद चौधरी ने बताया कि रामगंजमंडी मंडी में राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना नियंत्रण हेतु, कानून व्यवस्था हेतु धारा 144 सीआरपीसी, व जारी कोरोना गाइड लाइन की पालना नहीं करने व ज्यादा संख्या में भीड़ इकट्ठी की गई। जिस पर धारा 188, 269, 270 भारतीय दंड संहिता, धारा 5 राजस्थान महामारी अध्यादेश 2020 में मामला दर्ज कर जांच सीआईडी सीबी जयपुर को प्रेषित किया गया है।

शरद चौधरी ने बताया कि झालावाड़ में कृष्णा बाल्मीकि हत्याकांड को लेकर अंबेडकर सर्किल रामगंजमंडी पर करीब 80-90 लोगों की भीड़ इकट्ठा हुई थी। जिसका नेतृत्व मदन दिलावर द्वारा किया जा रहा था। मदन दिलावर के साथ पार्षद अखिलेश मेडतवाल,गोपाल गर्ग, विजय गौतम, महेश श्रीवास्तव सहित अन्य लोगों ने भीड़ को संबोधित किया था। जबकि जिला कलेक्टर ने मंगलवार को ही जिले में धारा 144 लागू की थी। किसी प्रकार की सभा, धरना, प्रदर्शन करने पर रोक थी। 5 से अधिक व्यक्तियों को किसी भी सार्वजनिक स्थान पर इकट्ठा होने की अनुमति नहीं थी।

क्या है धारा 188

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए लॉकडाउन महामारी कानून के तहत लागू किया गया है। इसी कानून में प्रावधान है कि अगर लोग डाउन में सरकार के निर्देशों का कोई भी व्यक्ति उल्लंघन करता है तो उस पर भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी। कम से कम 1 से 6 माह की जेल, 200 से 1 हजार रुपए जुर्माना या दोनों। दोनों ही स्थिति में जमानत मिल सकती है

धारा 269

इस धारा के अनुसार यदि कोई व्यक्ति असंवैधानिक तरीके से अथवा लापरवाही पूर्वक ये जानते हुए ऐसा कृत्य करता है, जिससे किसी जानलेवा बीमारी के फैलने का खतरा हो सकता है। तो यह दंडनीय अपराध गए। इसमें 6 माह तक की जेल या जुर्माना या दोनों से दंडनीय।

धारा-270

इसके अंतर्गत कोई व्यक्ति द्वेषतापूरक ऐसा कोई कृत्य करता है ये जानते हुए कि ऐसा करने से कोई जानलेवा बीमारी फैलेगी तो यह दंडनीय अपराध है। परंतु यह कृत्य द्वेषतापूरक किए जाना पाए जाने पर ही मामला बनता है अन्यथा नहीं। इसमें दो साल की जेल ओर जुर्माना या दोनो से दंडनीय है।

खबरें और भी हैं...