पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौसम में बदलाव:दाेपहर बाद छाए बादल, गर्मी से मिली राहत, 2.6 डिग्री गिरा पारा

काेटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मई माह में इस बार पिछले वर्षों की तुलना में कम गर्मी पड़ रही है। जबकि मई में अधिकतम पारा 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक बना रहता है। वहीं, दूसरी ओर शुक्रवार काे अधिकतम पारा में गिरावट के साथ पारा 40.2 डिग्री सेल्सियस बना रहा। वहीं हवा की स्पीड 14 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बनी रही। दाेपहर 1.30 बजे से बादल छाए रहे जाे 5 बजे बाद अधिक बादल हाे गए। बादल छाए रहने से गर्मी से राहत मिली। शनिवार काे अधिकतम पारा में एक-दाे डिग्री का उतार-चढ़ाव के साथ बादल छाए रहेंगे।

पश्चिमी विक्षाेभ के नए साइक्लाेनिक सर्कुलेशन के असर से हल्के बादल के साथ धूप भी बनी रही। दाे मई के बाद से पारा 41 डिग्री से कम रहा। वहीं, दूसरी ओर शुक्रवार काे अधिकतम पारा 40.2 डिग्री और न्यूनतम 28.1 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि गुरुवार काे अधिकतम पारा 42.8 और न्यूनतम 27 डिग्री सेल्सियस रिकाॅर्ड किया गया। सुबह 8:30 बजे की आर्द्रता 32 प्रतिशत रही जाे शाम 5:30 बजे 50 फीसदी गिरकर 16 प्रतिशत रिकाॅर्ड की गई।

आगे क्या? : जयपुर माैसम विभाग के डायरेक्टर राधेश्याम शर्मा के अनुसार पश्चिमी विक्षाेभ के एक नया साइक्लाेनिक सर्कुलेशन के असर से अधिकतम पारा में एक-दाे डिग्री के उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी रहेंगी। कहीं -कहीं मेघगर्जन के साथ बूंदाबांदी के आसार है। इसकेे अलावा 10 मई से एक ओर पश्चिमी विक्षाेभ के असर से बारिश और आंधी की संभावना है।

मई में आते हैं 3-4 विक्षाेभ, इस बार 10 दिन में ही 3 आ चुके
पश्चिमी विक्षाेभ का असर इस वर्ष अधिक नजर आ रहा है। मई के पहले सप्ताह में ही दाे पश्चिमी विक्षाेभ आ चुके हैं। एक असर एक से मई तक रहा। इसके बाद दूसरा विक्षाेभ 6 से आठ मई तक रहा हैं। इसके बाद 10 मई काे तीसरा विक्षाेभ हाेगा। जबकि मई में अमूमन तीन से चार विक्षाेभ आते हैं। लेकिन, 10 मई तक तीन विक्षाेभ हाेंगे। इनके असर से गर्मी के साथ लू का असर कम हाेगा। जबकि मई के महीने में भीषण लू की स्थिति हाे जाती थी। लेकिन, इनके असर से अभी लू की स्थिति तक नजर नहीं आ रही हैं। मई के इस समय में पारा अक्सर 44 से 45 डिग्री तक पहुंच जाता है। लेकिन, अभी तक ऐसा नहीं है।

पिछले साल एक मई काे अधिकतम पारा 44.1 डिग्री था : माैसम विभाग के अनुसार पिछले साल मई के पहले सप्ताह में एक मई काे अधिकतम पारा 44.1 डिग्री था। इसके बाद दाे मई काे 43.9 और तीन काे 43.4 और चार काे 40.8 और पांच काे 39.3 और छह मई काे अधिकतम पारा 41.4 डिग्री सेल्सियस रिकाॅर्ड किया था।

खबरें और भी हैं...