फल हुए महंगे, सब्जियां सस्ती:नारियल पानी 30 से बढ़कर 70 का हुआ, सेब 250 रु. किलो

कोटा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काेराेना के बढ़ते संक्रमण के बीच सब्जियों के दाम ताे औसतन ही बने हुए हैं, लेकिन फलाें के दाम इन दिनाें काफी बढ़ गए हैं। पानी का नारियल 25 से 30 रुपए बिकने वाला दाेगुना हाे गया है। अब 60 से 70 रुपए का बिक रहा है। सेब भी 100 रुपए किलाे से 200 से 250 रुपए तक पहुंच गए हैं।

माैसमी भी 60 से 70 रुपए किलाे तक बिकने वाली माैसमी 100 से 120 रुपए किलाे तक पहुंच गई है। संतरे भी 100 रुपए किलाे बिक रही है। थाेक फल सब्जीमंडी के एसाेसिएशन के अध्यक्ष निरंजन मंडावत ने बताया कि इन दिनाें पानी की नारियल की खपत ज्यादा हाे रही है। देशभर में इसकी कमी बनी हुई है।

इसके चलते भाव तेज हाे रहे हैं। काेटा में नारियल की 4 गाड़ी की आवश्यकता है,लेकिन यहां एक ही गाड़ी आ रही है। इसी प्रकार नारंगी और माैसमी का भी यही हाल है। इनकी भी कम आपूर्ति हाे रही है। इसके अलावा पपीता भी 60 रु किलाे तक पहुंच गया है। अंगूर 70 से 80 रुपए और आम 70 से 100 रुपए किलाे तक पहुंच गए हैं। बाकी फूलाें की आपूर्ति ठीक है।इसमें दिक्कतें नहीं हैं।
आलू-प्याज और टमाटर 15-20 रुपए किलाे

सब्जी के विक्रेता अशाेक अग्रवाल ने बताया कि काेराेना के चलते सब्जी के दाम अभी नहीं बढ़ रहे हैं। सब्जियाें के दाम सामान्य ही हैं। टमाटर 10 से 15 रुपए, आलू 15 से 20 और प्याज 25 से 30 रुपए किलाे मिल रहे हैं। भिंडी 30 रुपए किलाे मिल रही है। गाेभी और पत्ता गाेभी 25 से 30 रुपए किलाे तक मिल रही है।

लाेकी और गिल्ली 20 से 30 रुपए किलाे तक मिल रही है। सब्जियों की आवक भरपूर हाे रही है। किसी चीज की कमी नहीं है। नींबू ज़रूर महंगे है अाैर 100 रुपए किलाे तक बिक रहे हैं।

खबरें और भी हैं...