बीमा कंपनी, ट्रक चालक और मालिक को देना होगा मुआवजा:एक्सीडेंट में मृत टीचर के परिजनाें काे 95.65 लाख की क्षतिपूर्ति

कोटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दो साल पहले दायर हुआ था केस। - Dainik Bhaskar
दो साल पहले दायर हुआ था केस।

ट्रक की टक्कर से सरकारी टीचर की मौत होने के 2 साल पुराने मामले में न्यायालय मोटर वाहन दुर्घटना दावा अधिकरण क्रम एक ने मृतक के आश्रितों को 95,65,898 रुपए की क्षतिपूर्ति राशि देने के आदेश दिए हैं। ये राशि ट्रक चालक, मालिक और बीमा कंपनी को संयुक्त रूप से भुगतान करनी हाेगी।

इस राशि पर क्लेम प्रस्तुत करने की तारीख 24 सितंबर 2019 से अदायगी तक 7.5 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर से ब्याज भी प्राप्त करने के अधिकारी होंगे। यह भी आदेश दिया कि अवार्ड राशि मय ब्याज एक माह की अवधि में इस अधिकरण में जमा करवाई जाए। यह आदेश न्यायालय मोटर वाहन दुर्घटना दावा अधिकरण क्रम -1 के न्यायाधीश सुरेंद्र सिंह ने क्लेम याचिका पर दिए हैं।

इसी हादसे में घायल काे 55 हजार 574 रुपए की क्षतिपूर्ति राशि देने के आदेश दिए हैं। आरकेपुरम निवासी नमिता कुमारी राजोरा ने अपनी तीनों बेटियाें, बेटे और सुभाष नगर निवासी घायल देवेंद्र कुमार पालीवाल ने क्लेम याचिका 24 सितंबर 2019 को न्यायालय में पेश की थी।

क्लेम याचिका में ट्रक चालक बिलेठा तहसील जहाजपुर जिला भीलवाड़ा निवासी सत्यनारायण गुर्जर, ट्रक मालिक रामपुरा बाजार कोटा मैसर्स बालाजी ट्रेडिंग कंपनी की पार्टनर रजनी जिंदल और इंश्योरेंस कंपनी को पार्टी बनाया था।

खबरें और भी हैं...