पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना संकट:कोरोना का खाैफ और मजबूरी ऐसी कि अंत्येष्टि भी किराए पर करवा रहे मृतकाें के परिजन

काेटा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

काेराेना का खाैफ कहे या परिवाराें में एक साथ कई लाेग पाॅजिटिव हाेने की मजबूरी, इन दिनाें मृतकाें काे अपनाें से मुखाग्नि तक नसीब नहीं हाे रही है। लाेग काेराेना से मरने वाले परिजन अथवा रिश्तेदार के शव अंतिम संस्कार स्थल तक ले ताे जाते हैं, लेकिन वहां शव काे हाथ लगाने के लिए भी काेई तैयार नहीं हाेता नहीं है।

मुक्तिधाम में इन दिनाें जाे दृश्य देखने काे मिल रहे हैं, वाे राेंगटे खड़े कर देने वाले हैं। लाेग चिता पर शव रखने और मुखाग्नि देने का काम भी किराए पर करवा रहे हैं। यह कार्य मुक्तिधामाें में टाल पर काम करने वाले से लेकर आसपास घूमने वालाें से करवाया जा रहा है। स्थिति इतनी विकट हाे चुकी है कि अर्थियाें काे कांधा देने तक के लिए चार लाेग नहीं पहुंच पा रहे हैं। रात काे 2-2 बजे तक अंतिम संस्कार हाे रहे हैं। दाह संस्कार का सामान बेचने वाली दुकान तक रातभर खुल रही है।
कंधा देने वाले भी नहीं मिल रहे

रविवार को महावीरनगर क्षेत्र में रहने वाले एक व्यक्ति की मृत्यु हाे गई। परिवार के अन्य सदस्य भी पाॅजिटिव थे। अंतिम संस्कार के लिए मुक्तिधाम तक ले जाने के लिए काेई नहीं मिला तो उन्हाेंने किशाेरपुरा मुक्तिधाम के व्यवस्थापकोंं काे फाेन किया। इसके बाद मुक्तिधाम से चार जने गए और शव का अंतिम संस्कार करवाया। कई मामले ऐसे भी आए कि घर के बच्चे और अन्य सदस्य को अर्थी तक बांधना नहीं आता है। ऐसे में लाेग रेडिमेड अर्थी मांग रहे हैं।

मुखाग्नि देने वाला काेई नहीं, पैसे देकर कराया दाह-संस्कार
केशवपुरा मुक्तिधाम में एक अंतिम संस्कार के दाैरान देखने काे मिला कि मृतक के परिजन भी काेराेना पाॅजिटिव हाेने के कारण कुछ परिचित अंतिम संस्कार के लिए शव लेकर आए। डरते-डरते पहुंचे। चिता पर जब शव रखने की बारी आई ताे सभी ने हाथ पीछे खींच लिए। लकड़ी जमाने वाले ने ही शव रखवाया। फिर मुखाग्नि के लिए एक युवक काे पैसे देकर तैयार किया। उसने मुखाग्नि दी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें