कोटा में फिर हावी हुआ कोरोना / सब्जीमंडी से नजदीकी की वजह से निगम कॉलोनी बनी हॉटस्पॉट, 3 दिन में आए 18 रोगी

Corporation colony became hotspot due to its proximity to Subzimandi, 18 patients arrived in 3 days
X
Corporation colony became hotspot due to its proximity to Subzimandi, 18 patients arrived in 3 days

  • शहर का नया हॉटस्पॉट: नगर निगम कॉलोनी, छावनी क्योंकि यहां मिले 16 नए मरीज, पहले भी 2 रोगी मिले
  • डीसीएम रोड की सब्जीमंडी बनी वायरस की सुपर स्प्रेडर क्योंकि यहां रोज आते हैं 5 हजार से ज्यादा शहरवासी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

कोटा. काेटा में शुक्रवार काे 20 नए मरीज काेराेना मरीज सामने आए। वहीं, 2 मरीजों की मौत हो गई। इनमें रामपुरा के 83 वर्षीय वृद्ध और बकरामंडी की 60 साल की महिला शामिल है। वृद्ध की मौत सुबह करीब 6 बजे हुई, शाम काे उनकी रिपाेर्ट पाॅजिटिव आई। वहीं वृद्धा 14 मई को पॉजिटिव मिली थी। पिछले 4 दिन से वो वेंटीलेटर पर थी। नए मरीजाें के साथ ही शहर में एक नया हाॅटस्पाॅट भी सामने आया है, जो छावनी की नगर निगम काॅलाेनी है। यहां से शुक्रवार काे एक साथ 16 नए मरीज रिपाेर्ट हुए। यहां पहले भी 2 मरीज आ चुके। इसी के साथ कोटा में कुल मरीजों का आंकड़ा 360 पहुंच गया है और कोरोना से मरने वालों की संख्या 15 हाे गई है। 
मेडिकल काॅलेज के प्रिंसिपल डाॅ. विजय सरदाना ने बताया कि सुबह आए 17 मरीजाें में से 15 छावनी नगर निगम काॅलाेनी के रहने वाले हैं, जिनमें 2 व 6 साल की बच्ची समेत 65 साल तक की उम्र के मरीज शामिल है। इनके अलावा मेहरापाड़ा, वल्लभबाड़ी से एक-एक मरीज रिपाेर्ट हुआ। वल्लभबाड़ी निवासी 51 साल का पुरुष डाक विभाग का कर्मचारी है, जिसकी ड्यूटी परकोटे के कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्र में कैश वितरण के लिए लगी हुई थी। वहीं, शाम को आए 3 मरीज मोखापाड़ा, निगम कॉलोनी और रामपुरा के हैं।
राशन की लाइन से संक्रमित हुआ बजाजखाना का व्यक्ति
मेहरापाड़ा बजाजखाना निवासी 45 साल का पुरुष चूड़ी बनाने का काम करता है। इनकी पत्नी व पुत्रवधू ठठेरा मार्केट में राशन लेने गई थी, जहां काफी भीड़ थी। दोनों सब्जी व दूध लेने जाती थी। इनके पड़ोसी की बेटी एक दिन पहले पॉजिटिव मिली है।
परकोटे के बाहर हर चौथे दिन नया हॉटस्पॉट, इस ट्रेंड को रोकना सबसे बड़ी चुनौती
कोटा में कभी लगता है कि काेरोना का संक्रमण कंट्रोल में है, लेकिन तभी अचानक नया हॉटस्पॉट सामने आ जाता है। परकोटा क्षेत्र तक सीमित यह संक्रमण बाहर तो काफी पहले ही निकल चुका, लेकिन नए हॉटस्पॉट के रूप में नगर निगम कॉलोनी से पहले दो और इलाके सामने आ चुके हैं। इनमें साजीदेहड़ा स्थित बकरा मंडी और विज्ञान नगर की अमन कॉलोनी शामिल है। हर तीसरे चौथे दिन एक नया हॉटस्पॉट बनने से प्रशासन की सारी तैयारियां धरी रह जाती हैं और नए सिरे से सैंपलिंग व स्क्रीनिंग करनी पड़ रही है।
डायलिसिस से पहले रिटायर्ड बैंक मैनेजर की रिपोर्ट पॉजिटिव
मोखापाड़ा के 79 साल के रिटायर्ड बैंक मैनेजर भी संक्रमित मिले हैं। वे हार्ट व किडनी के पेशेंट हैं। उनका शुक्रवार को डायलिसिस होना था। वहीं, नए अस्पताल के अधीक्षक डॉ. सीएस सुशील ने बताया कि शुक्रवार को 12 मरीज डिस्चार्ज किए गए।
इनसाइड स्टोरी: सोशल डिस्टेंस न रखना भी निगम कॉलोनी में संक्रमण की वजह 
इस कॉलोनी में बुधवार को 47 व 35 साल के दो पुरुष संक्रमित मिले थे। इनमें 35 साल के पुरुष को लेकर सामने आया था कि वह थाेक सब्जीमंडी गया था। बड़ी सब्जीमंडी छावनी से ज्यादा दूर नहीं है, ऐसे में अक्सर यहां के लोग सब्जी खरीदने वहां जाते हैं। वहीं 47 साल के पुरुष की छावनी में जूतों की दुकान है, जो लॉकडाउन के बाद से बंद है, एक बार जरूर साफ-सफाई करने के लिए जाने की बात सामने आई है। उसे लेकर यह भी सामने आया था कि वह सब्जी व दूध लेने के लिए अक्सर बाहर निकलता रहा है। शुक्रवार काे इस माेहल्ले से मिले 16 मरीजाें में अधिकतर इनके परिवारों के सदस्य व पड़ोसी हैं। इन सभी का एक-दूसरे के घर भी आना-जाना था। इनकी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग में क्या सामने आया, पढ़िए सिर्फ भास्कर में-
{ 36 साल की महिला, दाे दिन पहले पाॅजिटिव आए व्यक्ति की पत्नी है।
{ 17 साल का किशाेर, पूर्व में पाॅजिटिव आए व्यक्ति का भतीजा है। दाेनाें के मकान पास ही हैं।
{ 19 साल का युवक, यह भी पूर्व में पाॅजिटिव आए व्यक्ति का भतीजा है। 
{ 65 साल की महिला, पूर्व में पाॅजिटिव आए मरीज के सामने मकान है।
{ 60 साल की महिला, संक्रमित आए मरीजाें के पड़ाेस में ही मकान है।
{ 6 साल की बच्ची, इसकी मां सब्जी बेचती है और राेजाना बड़ी सब्जीमंडी जाती है। संक्रमित मरीजाें के पड़ाेस में ही मकान है।
{ 38 साल की महिला, इनके पति होमगार्ड हैं, जिनकी ड्यूटी वर्तमान में कांजी हाउस चंद्रघटा में लगी है। संक्रमित मरीजाें की पड़ाेसी है।
{ 35 साल की महिला, इनके पति बीमा एजेंट व प्राइवेट स्कूल में जॉब करते हैं, पति सब्जी लेने 3-4 बार बड़ी सब्जीमंडी गए थे।
{ 65 साल की महिला, संक्रमित आ चुके मरीजों की पड़ोसी है, बेटा कई बार बड़ी सब्जीमंडी सब्जी लेने गया था।
{ 43 साल की महिला, संक्रमित मरीजों की पड़ोसी है, साथ उठना-बैठना था, मकान मालिक का बेटा होमगार्ड में ड्यूटी करता है।
{ 45 साल का पुरुष, दो दिन पहले पॉजिटिव आ चुके मरीज के भाई है। 
{ 38 साल की महिला, दो दिन पहले पॉजिटिव आ चुके मरीज के छोटे भाई की पत्नी है। इनके लिए सब्जी भी जेठ ही लाते थे।
{ 25 साल का युवक, यह युवक एक फर्म के पास आटा सप्लाई का काम करता है, नयापुरा में कई दुकानों पर आटा सप्लाई किया है।
{ 55 साल का पुरुष, बेलदारी का काम करता है, पूरा परिवार लॉकडाउन में घर में बंद है, पड़ोसी पॉजिटिव आए हैं।
{ 2 साल की बच्ची, इसके पिता का देहांत हो चुका, इसका परिवार पहले पॉजिटिव मिल चुके मरीजों के पड़ोस में रहता है।
{ 55 साल की महिला, यह कई बार बड़ी सब्जी मंडी सब्जी लेने गई थी। पूर्व में पॉजिटिव आ चुके पड़ोसी के यहां आना-जाना था।
मैंने कोरोना को हरा दिया
कोटा के विज्ञान नगर विस्तार योजना इलाके में एक बुजुर्ग महिला कोरोना को मात देकर अस्पताल से डिस्चार्ज होकर वापस लौटी तो लोगों ने उनके स्वागत के लिए तालियां बजाई और उनकी हौसला अफजाई की। 
बुजुर्ग महिला ने भी लोगों का अभिवादन स्वीकार करते हुए कहा कि यह लोगों की दुआ का असर है इसीलिए वह स्वस्थ होकर घर लौटी हैं।

भर्ती हाेने के 11 घंटे में वृद्ध की माैत, 4 दिन पहले भाई का भी हुआ था निधन

काेराेना संक्रमण से दम तोड़ने वाले रामपुरा गांधी चाैक निवासी वृद्ध को गुरुवार शाम करीब 7 बजे एडमिट कराया गया था। मरीज काे सांस में तकलीफ थी और देर रात रेस्पिरेट्री फेल्याेर से उनकी स्थिति बिगड़ी और सुबह 6 बजे दम टूट गया। मरीज काे पिछले करीब 6 दिन से बुखार व सांस में तकलीफ थी। उन्हाेंने 19 मई काे पाटनपाेल और 21 मई काे बसंत विहार स्थित प्राइवेट हाॅस्पिटल में दिखाया था, जहां से उन्हें नए अस्पताल काेविड जांच के लिए रैफर कर दिया गया। चार दिन पहले इसी मरीज के 88 साल के बड़े भाई की माैत हुई थी। हालांकि परिजनाें का कहना है कि वे घर पर ही चक्कर खाकर गिर गए थे, उन्हें एमबीएस अस्पताल लेकर गए ताे वहां डाॅक्टराें ने मृत घाेषित कर दिया। इस परिवार में एक 60 साल के व्यक्ति की तबीयत खराब है।
गुमानपुरा क्षेत्र में कर्फ्यू का दायरा बढ़ाया, महावीर नगर में हटाया
काेराना वायरस के लगातार पॉजिटिव केस मिलने पर प्रशासन ने गुमानपुरा क्षेत्र में कुम्हारों का मोहल्ला छावनी में कर्फ्यू लगा दिया, वहीं कुछ क्षेत्र में कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है। महावीर नगर क्षेत्र से कर्फ्यू हटा दिया गया है। छावनी के कुम्हाराें का माेहल्ला में मनाेज साेनी के घर काे केंद्र मानते हुए उसके चाराें ओर जीराे माेबिलिटी एरिया मानते हुए 31 मई तक कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। गुमानपुरा में ही डाॅ. रामकुमार सामुदायिक भवन के पूर्व की गली गणेश मंडावत के मकान के सामने, रामचरण धाेबी से कालूलाल सालवी के मकान तक, कस्तूरचंद के मकान से गजानंद बैरागी के मकान तक भी कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है। सभी जगह से रिपाेर्ट पाॅजिटिव मिलने पर प्रशासन ने महावीरनगर विस्तार याेजना के सत्येन्द्र सिंह के मकान के चाराें ओर लगाया कर्फ्यू हटा दिया गया है। एडीएम सिटी आरडी मीणा ने बताया कि जहां पर कर्फ्यू लगाया जा रहा है, वहां की रिपाेर्ट ठीक आने पर कर्फ्यू हटाया जा रहा है।
रामपुरा पोस्ट ऑफिस स्टाफ को किया गया क्वारेंटाइन
रामपुरा सिटी पोस्ट ऑफिस के पोस्टमैन के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद यहां के स्टाफ को होम क्वारेंटाइन किया गया है। वहीं मुख्य डाकघर, मंडल कार्यालय को सेनेटाइज करवाया गया। करीब 50 कर्मियों की कोरोना जांच करवाई गई। गुरुवार को पोस्टमैन मंडल कार्यालय नयापुरा गया था। यहां करीब आधे घंटे रहा। इस दौरान लोगों से भी बातचीत की। पाॅजिटिव मिले पाेस्टमैन की ड्यूटी कैथूनीपोल में कैश का भुगतान करने के लिए लगाई गई थी। पहली बार तबीयत खराब हुई तो विभाग ने कोरोना सैंपल करवाया था। पहली रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसके फिर से ड्यूटी ज्वाइन कर ली। 19 मई दोपहर 3 बजे नयापुरा पोस्ट ऑफिस में अचानक बेहोश होकर गिर गया। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना