• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Countryside Congress President Saroj Meena Sent A Written Resignation Letter To PCC Chief, Wrote It Is No Longer My Responsibility To Make A Board In Etawah Panchayat Samiti Kota Rajasthan

पंचायत चुनाव के टिकिट वितरण में अनदेखी:देहात कांग्रेस अध्यक्ष ने पीसीसी चीफ को इस्तीफा भेजा, लिखा- इटावा पंचायत समिति में बोर्ड बनाना अब मेरी जिम्मेदारी नहीं

कोटा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टिकट वितरण में संगठन की अनदेखी से नाराज कोटा कांग्रेस देहात की जिलाध्यक्ष ने लिखित इस्तीफा भेजा है - Dainik Bhaskar
टिकट वितरण में संगठन की अनदेखी से नाराज कोटा कांग्रेस देहात की जिलाध्यक्ष ने लिखित इस्तीफा भेजा है

कोटा में पंचायत चुनाव के दौरान कांग्रेस में खींचतान शुरू हो गई है। टिकट वितरण में संगठन की अनदेखी से नाराज कोटा कांग्रेस देहात की जिलाध्यक्ष सरोज मीणा ने पीसीसी चीफ गोविंद डोटासरा को लिखित इस्तीफा भेजा है ,जिसमें लिखा है, जिले के पंचायत राज चुनाव में पार्टी अध्यक्ष व ब्लॉक अध्यक्ष की टिकटों के वितरण में अनदेखी करने के कारण में देहात कांग्रेस के पद से आज त्यागपत्र देती हूं। अभी होने वाले चुनाव में बोर्ड बनाने की जिम्मेदारी अब मेरी नहीं है। मैं आम कार्यकर्ता बनकर पार्टी का काम करती रहूंगी। सरोज मीणा ने पत्र की एक कॉपी राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश प्रभारी अजय माकन व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भी भेजी है।

कांग्रेस देहात की जिलाध्यक्ष सरोज मीणा।
कांग्रेस देहात की जिलाध्यक्ष सरोज मीणा।

लम्बे समय से देहात अध्यक्ष व निवर्तमान इटावा प्रधान सरोज मीणा व पीपल्दा से कांग्रेस विधायक रामनारायण मीणा के खींचतान चल रही है। इससे पहले मतदाता सूची से नाम गायब होने पर 26 नवंबर को सरोज मीणा ने मीडिया से बात करते हुए विधायक रामनारायण मीणा पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि स्थानीय प्रशासन पंगु बना हुआ है। विधायक के कहने पर काम करता है।

साथ ही पंचायत चुनाव को लेकर विधायक रामनारायण मीणा द्वारा बनाई गई कमेटी पर भी सवाल उठाएं थे। उन्होंने कहा था कि कमेटी में संगठन को नदारद रखा है। कमेटी में वहीं व्यक्ति शामिल है, जो व्यक्तिगत लाभ ले रहा है या विधायक की चापलूसी कर रहा है। कमेटी में शामिल सदस्यों ने कभी चुनाव नहीं लड़ा। इससे विधायक की मानसिकता का पता चलता है। अच्छा होता स्थानीय सीनियर नेता व संगठन के पदाधिकारियों को साथ लेकर कमेटी बनाते। सरोज मीणा ने विधायक रामनारायण मीणा पर पुत्र मोह में होने के आरोप जड़े थे।