पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्रवाई:मुकंदरा में बाघाें की माैत के मामले में फील्ड डायरेक्टर और डीसीएफ को किया एपीओ, एसीएफ शर्मा निलंबित

कोटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुकंदरा में एमटी-2 की मौत के दूसरे दिन प्रदेश सरकार का बड़ा एक्शन
  • टाइगर एमटी-1 सुरक्षित, कैमरा ट्रैप में नजर आया

मुकंदरा रिजर्व में 12 दिन के अंदर दाे टाइगर की माैत के बाद राज्य सरकार ने मंगलवार काे रिजर्व में तैनात दाे आईएफएस काे एपीओ कर दिया है। वहीं, रिजर्व की दरा रेंज के एसीएफ राजेश कुमार शर्मा काे राजकार्य में लापरवाही बरतने के आराेप में निलंबित कर दिया है। प्रमुख शासन सचिव की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि निलंबन अवधि में एसीएफ शर्मा का मुख्यालय हैड ऑफ फाॅरेस्ट जयपुर रहेगा। संयुक्त शासन सचिव डाॅ. रविंद्र गाेस्वामी की ओर से जारी आदेश में बताया गया कि मुख्य वन संरक्षक वन्यजीव काेटा एवं पदेन फील्ड डायरेक्टर टाइगर प्राेजेक्ट मुकंदरा हिल्स के आईएफएस आनंद माेहन और रिजर्व के डीसीफ टी माेहनराज काे आगामी आदेशाें तक एपीओ किया जाता है। उल्लेखनीय है कि मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व में 12 दिन में दाे बाघाें की माैत हाे चुकी है। साेमवार काे बाघिन एमटी-2 का शव मिला था। वाे 31 जुलाई काे टाइगर एमटी-1 के साथ संघर्ष में गंभीर रूप से घायल हुई थी। तीन दिन तक उसकी लाेकेशन एक ही जगह आ रही थी। इसके बावजूद अधिकारियाें ने इस मामले काे हल्के में लिया और समय पर इलाज न मिलने से उसकी माैत हाे गई। इससे पहले 23 जनवरी काे टाइगर एमटी-3 की इलाज न मिलने के कारण माैत हाे गई थी। एमटी-2 का एक शावक गंभीर हालत में है वहीं दूसरा अभी तक लापता है। इस मामले काे वन मंत्री से लेकर विभाग के आला अधिकारियाें ने गंभीरता से लिया था। वन मंत्री सुखराम विश्नाेई के निर्देश के बाद यहां हैड ऑफ फाॅरेस्ट जीवी रेड्डी के अलावा चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन अरिंदम ताेमर सहित एनटीसीए की टीम ने विजिट कर हालत देखी और पूरी पड़ताल की। इसके बाद राज्य सरकार की ओर से एपीओ के आदेश जारी हुए।

एमटी-2 के शावक की हालत गंभीर, दूसरे शावक का रात तक नहीं लगा सुराग

एमटी-2 की माैत के दूसरे दिन भी उसके मिसिंग शावक की तलाशी के लिए सुबह से ही काॅम्बिंग ऑपरेशन चलाया गया। रात तक उसका काेई सुराग नहीं लगा था। सुबह से मुकंदरा की सभी रेंज और टेरिटाेरियल के स्टाफ सहित वन्यजीव प्रेमियाें ने भी तलाशी की। वहीं, गंभीर रूप से घायल मिले शावक की हालत गंभीर बनी हुई है। मंगलवार काे उसे इलाज के लिए काेटा के चिड़ियाघर में शिफ्ट कर दिया गया। दूसरी ओर टाइगर एमटी-1 सुरक्षित है। मंगलवार काे वाे कैमरा ट्रैप में नजर आया।

हैल्थ अपडेट : शावक ने खाना-पीना छोड़ा, बार-बार पड़ रहे दाैरे
एमटी-2 के नर शावक की स्थिति गंभीर बनी है। अभी तक उसने कुछ भी खाया नहीं है। उच्चाधिकारियाें के अनुसार उसे चिकन दिया गया था, लेकिन उसने नहीं खाया। दाे दिन से उसे ड्रिप चढ़ाई जा रही है। हालत में सुधार नहीं हाेने पर मंगलवार दाेपहर एक बजे उसे चिड़ियाघर शिफ्ट किया गया। जहां रणथंभाैर के सीनियर वेटेरनरी डाॅ. राजीव गर्ग, डाॅ. तेजेंद्रसिंह रियाड़ अाैर डाॅ. अखिलेश पांडे ने इलाज शुरू किया। मेडिकल टीम के अनुसार शावक के बाॅडी के किसी हिस्से में चाेट नहीं है। एक कान में लकड़ी घुस गई थी, जिससे इसके कारण चाेटिल हाे गया है। मेडिकल बाेर्ड टीम ने शावक के ब्लड प्राेटाेजाेन डीजीज की जांच करवाई, जिसकी जांच निगेटिव आई है। इसके शरीर पर कीड़े पड़ गए थे, जिन्हें निकाला गया है। अभी कंडीशन क्रिटिकल है। उसे बार-बार दाैरे पड़ रहे हैं।

अच्छी खबर शावक के साथ दिखी एमटी-4

मुकंदरा के मशालपुरा में एमटी-4 बाघिन ने शावकाें काे जन्म दिया है। इसका खुलासा रणथंभाैर की टाइगर वाच संस्था के डायरेक्टर धर्मेंद्र खांडल के पास उपलब्ध कैमरा ट्रैप की इमेज से हुआ है। उन्हाेंने बताया कि रिजर्व के डीसीएफ टी माेहनराज ने ये फोटो उन्हें पड़ताल के लिए भेजा था। शावक किस स्थिति में हैं, इसकी काेई जानकारी नहीं मिल सकी है। उन्हाेंने बताया कि यह 22 मई का फाेटाे है। रिजर्व के पूर्व फील्ड डायरेक्टर आनंद माेहन ने भी बताया कि यह एमटी-4 बाघिन के शावक का फाेटाे है जाे कैमरा ट्रैप में आया है। उन्हाेंने बताया कि इस बाघिन की निगरानी के लिए टीमें लगा रखी हैं। वहीं, लाेकल एडवाइजरी कमेटी के सदस्य तपेश्वरसिंह भाटी ने कहा कि विभाग शावक की जानकारी छुपा रहा है।

एनटीसीए की टीम ने की जांच, डायरेक्टर को सौंपी रिपोर्ट

एनटीसीए नई दिल्ली के एअाईजी वैभव माथुर ने भी मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व के दरा एरिया की विजिट की अाैर जरूरी जानकारी इकट्ठा की। साथ ही यहां की स्थितियाें अाैर परिस्थितियाें काे भी देखा है। वे दाेपहर 3 बजे दिल्ली के लिए निकल गए, जहां वे अपनी रिपाेर्ट डायरेक्टर को साैंपेंगे। गाैरतलब है कि लाेकसभा अध्यक्ष अाेम बिरला ने साेमवार काे एनटीसीए के डायरेक्टर से बात करके पूरे मामले की जांच करने काे कहा था। वहीं, दूसरी अाेर हैड अाॅफ फाॅरेस्ट जीवी रेड्डी ने मंगलवार काे अधिकारियाें अाैर स्टाफ की मीटिंग ली। अाज भेजे जाएंगे सैंपल : एमटी-2 की पाेस्टमार्टम रिपाेर्ट मेडिकल टीम के सीनियर वेटेरनरी डाॅ. राजीव गर्ग द्वारा मंगलवार काे तैयार की गई। डाॅ. गर्ग ने बताया कि यह रिपाेर्ट अधिकारियाें काे साैंप दी है। वहीं, बुधवार काे बाघिन के सैंपल अाईवीअारअाई बरेली, हैदराबाद, चैन्नई अाैर काेटा फाेरेंसिक लैब में भेजे जाएंगे।

पीसीसीएफ करेंगे बाघाें की माैत की जांच

राज्य सरकार ने एमटी-3 और एमटी-2 की माैत के मामले में देर रात जांच अधिकारी की नियुक्ति कर दी है। साेशल मीडिया पर वायरल हो रहे सचिव राजस्थान सरकार की ओर से जारी आदेश में बताया गया कि बाघाें की माैत की जांच पीसीसीएफ याेगेेंद्र कुमार दक करेंगे। वे बाघिन एमटी-2 और बाघ एमटी-3 की माैत के कारण, इनकी माैत की परिस्थितियाें से लेकर अधिकारियों की लापरवाही और जिम्मेदारी के अलावा रिजर्व के माॅनिटिरिंग सिस्टम, मैनेजमेंट सिस्टम के प्राेटाेकाॅल के अलावा किसी भी तरह की खामियाें को लेकर जांच करेंगे। वहीं मुकंदरा की स्थितियाें में सुधार के लिए जरूरी सुविधाओं पर भी रिपोर्ट तैयार करेंगे। हालांकि देर रात तक इस आदेश की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी।

मुकंदरा में डीसीएफ हाेंगे बीजाे जाेय
राज्य सरकार की ओर से देर रात जारी आदेश के अनुसार मुख्य वन संरक्षक मनाेज पाराशर काे सीसीएफ काेटा और मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व में बीजाे जाेय काे डीसीएफ लगाया है। साथ ही रिजर्व से डीसीएफ आलाेक नाथ गुप्ता काे वन्यजीव काेटा लगाया गया है।

मैं कल रात काे ही काेटा पहुंच गया था। एनटीसीए की ओर से जारी गाइड लाइन के अनुसार डेटा क्लेक्ट कर लिया है। दाे दिन तक डिटेल ली है। इस संबंध मैं कुछ नहीं बता सकता हूं। दाे दिन बाद इसकी रिपाेर्ट आपकाे मिल जाएगी।
-वैभव माथुर, एआईजी, एनटीसीए
मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व में एमटी-1 बाघ मिल गया है। इसकी सुबह बजे एविंडेंस मिले हैं। अभी तक एमटी-2 की इंटरनल फाइट की पुष्टि नहीं हुई है। इसके इन्फेक्शन हुअा है। शावक के मुंह से झाग निकल रहे हैं। एमटी-2 बाघिन के मामले में दाे दिन की देरी हुई है। सारी स्थिति की जांच कर रहे हैं।
-आनंद माेहन, फील्ड डायरेक्टर मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप भावनात्मक रूप से सशक्त रहेंगे। ज्ञानवर्धक तथा रोचक कार्यों में समय व्यतीत होगा। परिवार के साथ धार्मिक स्थल पर जाने का भी प्रोग्राम बनेगा। आप अपने व्यक्तित्व में सकारात्मक रूप से परिवर्तन भ...

और पढ़ें