काेराेना बचाव:राहत के लिए शिक्षक सर्वे में करेंगे सहयाेग

कोटा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काेराेना से बचाव, राहत के लिए काेर ग्रुप में शामिल शिक्षक घर-घर राेगियाें का सर्वे करेंगे। शिक्षक इसमें बीमार, संदिग्ध व्यक्ति काे एएनएम के माध्यम से चिकित्सा किट देंगे। पहले चरण में ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षा विभाग के पंचायत प्रारंभिक शिक्षाधिकारी काे जिम्मेदारी साैंपी है।

डीईओ माध्यमिक मुख्यालय गंगाधर मीणा ने बताया कि उच्चाधिकारियाें के निर्देशानुसार पहले चरण में ग्रामीण क्षेत्र में पंचायत स्तरीय काेर ग्रुप के माध्यम से सर्वे शुरू कर दिया है। उपखंड स्तर काेर ग्रुप में सीबीईओ काे निर्देश जारी कर दिए हैं। पंचायत स्तरीय टीम घर-घर जाकर डाेर-टू डाेर सर्वे करेंगी। गाइडलाइन के अनुसार सब लाेगाें काे सबके घर नहीं जाना, बल्कि आपस में तय कर अपना एरिया निर्धारित करना है, जाे लाेग काेविड संभावित लक्षण या फ्लू जैसे लक्षण वाले हाें यानी बुखार, सर्दी, जुकाम-खांसी वाले हैं।

उन्हें एएनएम के माध्यम से चिकित्सा किट देने है। इसमें काेविड टेस्ट हाेना जरूरी नहीं है। इस प्रकार का सर्वे और चिकित्सा किट वितरण शुरू कर दिया है।
यह लेनी है सर्वे में जानकारी
डीईओ माध्यमिक मुख्यालय के अनुसार इस फाेरमेट में संबंधित सर्वे घर की स्थिति में मुखिया का नाम, सदस्याें की संख्या, परिवार में संक्रमण से संबंधित लक्षणाें वाले व्यक्तियाें की संख्या, विदेश यात्रा से आए सदस्याें की संख्या, हाईरिस्क ग्रुप के सदस्याें की संख्या, सांस लेने में कठिनाई, निमाेनिया के राेगियाें की संख्या, चिकित्सक अथवा अस्पताल में दिखाए राेगियाें की संख्या सहित माेबाइल नंबर सर्वे फाॅर्मे में भरने हैं।

खबरें और भी हैं...