खाकी 7 हजार में नीलाम:बिनायका पुलिस चौकी में बैठकर 7 हजार रिश्वत ले रहा था हेडकांस्टेबल, गिरफ्तार

कोटा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार काे परिवादी बनवारी से 7 हजार रिश्वत लेते एसीबी ने नाहर सिंह को गिरफ्तार कर लिया। - Dainik Bhaskar
मंगलवार काे परिवादी बनवारी से 7 हजार रिश्वत लेते एसीबी ने नाहर सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

एसीबी ने मंगलवार को कोटा ग्रामीण के इटावा थाने की बिनायका पुलिस चौकी का इंचार्ज हेडकांस्टेबल नाहर सिंह को 7 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। वाे मारपीट के मामले में किसान को जेल नहीं भेजने के एवज में 15 हजार रुपए मांग रहा था। वाे 8 हजार पहले ले चुका था। एसीबी ने उसे पुलिस चौकी में रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

एसीबी एएसपी ठाकुर चंद्रशील ने बताया कि परिवादी बनवारी लाल मीणा निवासी ग्राम रनोदिया पीपल्दा ने 14 जनवरी को शिकायत दी, जिसमें कहा कि उसकी गांव के ही हीरालाल माली से कहासुनी हो गई थी। हीरालाल ने उसके खिलाफ थाना इटावा में मारपीट का मुकदमा दर्ज करा दिया। इसकी जांच हेडकांस्टेबल नाहर सिंह कर रहा है।

वह गिरफ्तार कर जेल भिजवाने की धमकी दे रहा है। जब मैं उससे मिला तो उसने जेल नहीं भिजवाने तथा थाने पर ही जमानत करवाने की एवज में 15 हजार रुपए मांगे। नाहर सिंह ने बनवारी से 12 जनवरी को 8 हजार रुपए लिए। अब वो 7 हजार रुपए लेकर आने के लिए बार-बार दबाव बना रहा है। एसीबी ने 17 जनवरी को सत्यापन करवाया तो पुष्टि हुई। मंगलवार काे परिवादी बनवारी से 7 हजार रिश्वत लेते एसीबी ने नाहर सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

मारपीट में जेल नहीं भेजने के लिए पैसे लेकर चौकी बुलाया
सीआई अजीत बगडोलिया ने बताया कि हेडकांस्टेबल नाहर सिंह ने बनवारी को रिश्वत लेकर पुलिस चौकी में बुलाया और वहां आराम से बिना किसी डर के 7 हजार रुपए ले लिए। एसीबी ने उसकी काेट की जेब से ये रकम बरामद की। टीम में डीएसपी हर्षराज सिंह खरेड़ा, सीआई नरेश कुमार, वरिष्ठ लिपिक दिलीप सिंह, कांस्टेबल भरत सिंह, नरेन्द्र सिंह, बृजराज, हेमन्त सिह, मोहम्मद खालिक, देवेन्द्र सिंह शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...