• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota Ahead Of Ajmer And Jaipur In Smart City Innovations, Coaching City Ranked 11th Across The Country, Udaipur Ranked 6th Kota Rajasthan

WELL DONE कोटा:स्मार्ट सिटी इनोवेश में अजमेर व जयपुर से आगे रहा कोटा, कोचिंग सिटी का देशभर में 11वां स्थान, उदयपुर 6 वें स्थान पर रहा

कोटाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भारत सरकार के सचिव, आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा  वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 14 राज्यों की समीक्षा बैठक में रैंकिक की जानकारी दी गई। - Dainik Bhaskar
भारत सरकार के सचिव, आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 14 राज्यों की समीक्षा बैठक में रैंकिक की जानकारी दी गई।

स्मार्ट सिटी के तहत चल रहे विकास कार्यो व इनोवेशन में देशभर के प्रमुख 25 शहरों में कोटा ने जगह बनाई है। शहरी रैंकिग में देश के 100 शहरों में से कोटा को 11 वां स्थान प्राप्त हुआ है। भारत सरकार के सचिव, आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 14 राज्यों की समीक्षा बैठक में रैंकिग की जानकारी दी गई।

फाइल फोटो-स्मार्ट सिटी की टीम स्थानीय अधिकारियों से चर्चा करते हुए
फाइल फोटो-स्मार्ट सिटी की टीम स्थानीय अधिकारियों से चर्चा करते हुए

कोटा स्मार्ट सिटी केे सीईओ एवं कलेक्टर उज्ज्वल राठौड़ ने बताया कि शहर के स्मार्ट सिटी के कार्याें की बदौलत, कोटा को देशभर में 11 वां स्थान प्राप्त हुआ है। इसके अलावा उदयपुर 6वें, अजमेर-28वें व जयपुर-34 वें स्थान पर रहे। वहीं राष्ट्रीय स्तर पर राजस्थान राज्य की सैकंड रैंक है। आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा उदयपुर व कोटा की रैंक के लिए स्मार्ट सिटी मिशन के तहत हो रहे कार्यों की सराहना की गई।

कलेक्टर ने बताया कि कोटा में स्मार्ट सिटी मिशन के तहत किए गए नवाचारों में साईकिल फॉर चैंज चैलेंज, स्ट्रीट फॉर पीयुपल, नर्चरिंग नेबरहुड़ चैलेंज, ट्रांसपोर्ट फॉर ऑल चैलेंज तथा ईट स्मार्ट सीटी चैलेंज को देशभर में सराहा गया है। इन सभी नवाचारों में कोटा शहर द्वारा भी भाग लिया जा रहा है। नर्चरिंग नेबरहुड़ चैलेंज में देश भर से भाग लेने वाले शहरों में से टॉप 25 शहरों में कोटा का चयन हुआ हैं।

उन्होंने बताया कि कोटा स्मार्ट सिटी के तहत शहर मे प्रगतिरत काम पूरा होने पर स्मार्ट सिटी के सभी मापदण्डों में प्रथम पंक्ति में रहेगा। कचरा प्रबंधन एवं सडकों का विकास, यातायात प्रबंधन एवं पेयजल प्रबंधन के क्षेत्र में कोटा के कार्य स्मार्ट सिटी के अनुरूप पूरा होने पर आम नागरिकों को भी सुविधाओं एवं बेहतर जीवनशैली का लाभ मिलेगा।

वीडियो कॉन्फ्रेंस में स्वायत्त शासन विभाग के सचिव भवानी सिंह देथा जयपुर से, कोटा स्मार्ट सिटी से मुख्य कार्यकारी अधिकारी उज्ज्वल राठौड़, अधीक्षण अभियंता राजेन्द्र राठौर, वित्तीय सलाहकार डॉ. विधि शर्मा, अधिषाषी अभियंता कृष्ण मुरारी शर्मा, उप नगर नियोजक भूपेश मालव ने भाग लिया।

खबरें और भी हैं...