ट्रेन में बिना टिकट सफर करने पर लगा फटका:कोटा मंडल ने सालभर में 20 करोड़ से ज्यादा जुर्माना वसूला, 3 लाख से ऊपर मामले पकड़े

कोटाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

चालू वित्तीय वर्ष में यात्रियों को ट्रेन में बिना टिकट यात्रा करने पर तगड़ा फटका लगा है। कोटा मंडल टिकट चेकिंग स्टाफ ने अनियमित यात्रा या सामान बुक किए बिना ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों से करोड़ों रुपए का जुर्माना वसूला है। कोटा मंडल में चालू वित्तीय वर्ष में 3 लाख 10 हजार 627 मामले पकड़े। उनसे 20 करोड़ 51 लाख 44 हजार 926 रूपए जुर्माना वसूला है। कोटा मंडल के 61 साल के इतिहास में पहली बार इतना भारी जुर्माना वसूला गया है।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अजय कुमार पाल ने बताया कि टिकट चेकिंग स्टाफ ने मंडल के सभी रेल खंडों में बेटिकट सफर करने वालों के खिलाफ अभियान चलाए। कोटा मंडल के नागदा-कोटा, कोटा-मथुरा खंड में अलग अलग रेलवे स्टेशनों व मंडल से गुजरने वाली सभी यात्री गाड़ियों में चैकिंग की। साथ ही अंबुश चैक, इंटेंसिव चैक व अन्य टिकट चैकिंग अभियान चलाए गए।

सबसे ज्यादा जुर्माना दिसंबर में वसूला

अजय कुमार पाल ने बताया कि सबसे अधिक जुर्माना दिसंबर महीने में वसूला गया। दिसंबर में कुल 55,607 मामले पकड़े। उनसे 3 करोड़ 81 लाख 40 हजार 20 रूपए जुर्माना वसूल किया। इससे पहले नवंबर में कुल 54,889 मामले पकड़े गए थे। इनसे कुल 3 करोड़ 61 लाख 45 हजार 390 रूपए जुर्माना वसूला गया। इसके अलावा जून में 37,003 मामले पकड़े गए थे। उनसे 2 करोड़ 73 लाख 33 हजार 130 रूपए जुर्माना वसूला गया।