पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota, Rajasthan,Collector Indra Singh Rao, Accused Of Taking Bribe Through PA, Will Be Produced In ACB Court In The Afternoon

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रिमांड पर आईएएस:कोर्ट ने इंद्र सिंह राव को 1 दिन की रिमांड पर भेजा, ACB ने कहा- सवालों के जवाब नहीं दे रहे पूर्व कलेक्टर

कोटा2 महीने पहले
एसीबी ने बुधवार को बारां के पूर्व कलेक्टर इंद्र सिंह राव (कोट में) को जयपुर में गिरफ्तार किया था।

बारां के पूर्व कलेक्टर और आईएएस इंद्रसिंह राव को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने गुरुवार को कोटा की डीजे कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने इंद्र सिंह राव को एक दिन की एसीबी की रिमांड पर भेजा है। ऐसे में एसीबी कल फिर उन्हें कोर्ट में पेश करेगी। इंद्रसिंह को बुधवार शाम को 1.40 लाख रुपए की रिश्वत मामले में एसीबी ने जयपुर से गिरफ्तार किया था।

एसीबी दोपहर साढ़े तीन बजे इंद्र सिंह राव को कोटा की डीजे कोर्ट में लेकर पहुंची। यहां योगेंद्र पुरोहित की कोर्ट में एसीबी ने उनको पेश किया। इस दौरान एसीबी ने इंद्रसिंह राव की रिमांड मांगी। कोर्ट ने एक दिन की रिमांड मंजूर कर दी। करीब 20 मिनट में ही एसीबी की टीम उनको कोर्ट से लेकर निकल गई।

कोर्ट रूम में क्या-क्या हुआ:

  • सुनवाई के दौरान इंद्र सिंह राव कटघरे में चुपचाप खड़ा रहा। उनकी ओर से वकील ही पैरवी करते रहे। पेशी के दौरान एसीबी ने तर्क दिया कि राव जांच में अपेक्षित सहयोग नहीं कर रहे हैं। सवालों के जवाब नहीं दे रहे हैं।जबकि इनकी अर्जित संपत्तियों के संबंध में जांच की जानी है।
  • इस पर आरोपी पक्ष के वकील ने रिमांड का विरोध करते हुए तर्क दिया की कलेक्टर से रिकवरी नहीं हुई है। अकाउंट चेक किए गए। लेकिन जब्त नहीं कर सकते हैं। आरोपी पक्ष के वकील ने कहा कि प्रकरण रिश्वत ट्रैप से संबंधित है।
  • इस संबंध में मुख्य आरोपी महावीर से बरामदगी हो चुकी है। महावीर को न्यायिक अभिरक्षा में लिया जा चुका है। कलेक्टर द्वारा परिवादी से रिश्वत राशि नहीं मांगी गई है। न ही कलेक्टर से बरामदगी हुई है। ऐसे में रिमांड दिए जाने का कोई औचित्य नही है।
  • वकील ने कोर्ट को राव को ह्रदय से संबंधित बीमारी होने के बारे में बताया। जिस पर कोर्ट ने एसीबी के एएसपी को बीमारी के समस्त दस्तावेज मुहैया करवाने व आरोपी के मेडिकल से संबंधित पूरा ध्यान रखने के निर्देश दिए हैं। आरोपी के वकील ने कहा कि यदि आपको संपत्ति के संबंध में पूछताछ करनी है तो उससे संबंधित धाराएं दिखाएं। नही तो नई FIR दर्ज करो।
  • इस पर एसीबी की टीम ने किसी फाइल को जब्त करने की बात कही। किसी गवाह के बयान कोर्ट में दिखाए। तब कोर्ट ने 24 घंटे का रिमांड दिया।

बता दें कि 9 दिसंबर को एसीबी ने बारां कलेक्टर रहे इंद्र सिंह राव के पीए महावीर नागर को 1.40 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था। पूछताछ में पीए ने कहा था कि पेट्रोल पंप को एनओसी जारी करने के एवज में यह रिश्वत कलेक्टर के कहने पर ली है। एसीबी ने मामले की जांच के लिए एडिशनल एसपी चंद्रशेखर शर्मा, उप अधीक्षक सचिन शर्मा और पुलिस निरीक्षक महेश तिवारी की टीम को लगाया है।

मीडिया से बातचीत में महावीर ने बड़ा खुलासा किया था। महावीर ने कबूला है कि इतने पैसे छोटा कर्मचारी ले सकता है क्या? उच्चाधिकारी के कहने पर पैसे लिए जाते थे। जो रकम ली गई है वो पूरी ही कलेक्टर को देनी थी।शुरुआती जांच से ही एसीबी ने कलेक्टर की भूमिका को संदिग्ध माना था।

ट्रैप की कार्रवाई के बाद टीम ने बारां कलेक्टर इंद्र सिंह राव से करीब 10 घंटे की पूछताछ की थी। एसीबी टीम ने पूरे तथ्य जुटाए थे। एसीबी ने पूछताछ के बाद कलेक्टर के मोबाइल को जब्त किया था। FIR में इंद्र सिंह राव को नामजद किया था। एसीबी की पूछताछ में PA ने बताया था कि रिश्वत की रकम में कुछ हिस्सा बाबुओं था, बाकी कलेक्टर का था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

और पढ़ें