• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota, Rajasthan,Congress Workers On The Road In Kota, March On Foot, Submit Memorandum To District Administration In The Name Of President, Demand For Withdrawal Of Agricultural Bill

कृषि कानून वापस लेने की मांग:कोटा में सड़क पर उतरे कांग्रेस कार्यकर्ता, राष्ट्रपति के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा

कोटा2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्ट्री पर प्रदर्शन करते कांग्रेसी कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
कलेक्ट्री पर प्रदर्शन करते कांग्रेसी कार्यकर्ता।

दिल्ली की सीमाओं किसानों का कृषि कानून के विरोध में आंदोलन जारी है। कोटा में किसानों के समर्थन में अब कांग्रेस भी उतरी है। शहर कांग्रेस महामंत्री विपिन बरथुनिया की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने लाडपुरा पंचायत से कलेक्ट्री तक पैदल मार्च निकाला। कलेक्ट्री पर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बाद में राष्ट्रपति के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस शहर जिलाध्यक्ष, किसानों के अनिश्चितकालीन धरने में शामिल हुए।

कलेक्ट्री के बाहर किसानों का धरना जारी
कलेक्ट्री के बाहर किसानों का धरना जारी

कांग्रेस शहर अध्यक्ष रविन्द्र त्यागी ने बताया कि बिल में एमएसपी पर कुछ भी स्पष्ट नहीं है। स्टॉक लिमिट हटाने से कालाबाजारी को बढ़ावा मिलेगा, किसान को उचित मूल्य नही मिल पाएगा। वहीं, कॉन्ट्रैक्ट कंपनी ने माल लेने से मना किया तो उसकी ग्रेडिंग के लिए कोई स्पष्ट कानून प्रक्रिया नही दी गई है। ये बिल किसानों के हित मे नहीं है। एक महीने से किसान आंदोलन कर रहा है। उसके बाद भी केंद्र सरकार के जू नही रेंग रही। तानाशाही तरीके से कृषि कानून को लागू किया गया है। उन्होंने कहा कि यदि केंद्र सरकार अभी भी नहीं चेती तो मोदी सरकार का अंत निश्चित है।

खबरें और भी हैं...