• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota, Rajasthan,Imprisoned In Homes At The End Of The Year, Will Not Be Able To Celebrate The New Year

रोक के बीच साल का स्वागत:कोटा में साल की आखिर रात घरों में ही रहेंगे कैद, नहीं मना सकेंगे नए साल का जश्न

कोटा2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो- 31 दिसम्बर 2019 रात 12 बजे जश्न की तस्वीर - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो- 31 दिसम्बर 2019 रात 12 बजे जश्न की तस्वीर
  • 31 दिसम्बर को शाम 7 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू रहेगा

पाबंदियों के बीच कैसे हो नए साल का स्वागत, हर किसी के जेहन में बस यही बात है। क्योंकि इस बार नए साल का सेलिब्रेशन कोरोना की भेंट चढ़ गया है।नई गाइड लाइन के तहत इस साल 31 दिसम्बर को शाम 7 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। इस कारण 31 दिसंबर को शहर में नए साल की धूम नहीं रहेगी। ना कोई आतिशबाजी कर पाएगा, न ही होटल या प्राइवेट जगहों पर पार्टी होगी। कर्फ्यू के कारण साल की आखिरी रात में लोग घरों में कैद रहेंगे।

हर साल न्यू ईयर पर शहर की कई होटल,रेस्टोरेंट व मैरिज गार्डन में पार्टी आयोजित होती थी। शहर का युवा वर्ग रात 1 बजे तक सड़कों,होटल,रेस्टोरेंट व मैरिज गार्डन में नजर आता था। 31 दिसम्बर की रात को जैसे ही घड़ी की सुई 12 पर पहुचती, तो आसमान में आतिशबाजी की रंगीन रोशनियों नजर आती थी। जमकर धमाल होता था। रात में ही केक व मिठाई खिलाकर एक दूसरे को नए साल की बधाई दी जाती थी। लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के चलते शाम 7 बजे ही ताला लगाना पड़ेगा। क्योकि गाइड लाइन का उल्लंघन करने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज होगा।

कोटा व्यापार महासंघ के महासचिव व व्यवसायी अशोक माहेश्वरी ने बताया कि शहर में छोटे बड़े करीब 400 होटल, रेस्टोरेंट, मैरिज गार्डन है। साल के अंतिम दिनों में लोग घरों से बाहर निकलते थे। होटलों व रेस्टोरेंट में खाना खाते थे। 5 दिनों में लगभग 100 करोड़ का कारोबार होता। लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के कारण सब चौपट हो गया है।

खबरें और भी हैं...