पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,Sandeep Sharma Said Wrestling Riots In The Congress Organization, No Matter How Many Say Brother brother, Their Fight For Power posts Is Well Known, The Loss Of The Public

डोटासरा-धारीवाल विवाद पर BJP MLA बोले:कांग्रेस में चल रहा कुश्ती दंगल, कितना ही कह दें भाई-भाई, इनकी सत्ता और पदों की लड़ाई जगजाहिर; भुगत तो जनता रही है

कोटा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
धारीवाल के बयान के बाद कोटा दक्षिण से बीजेपी विधायक संदीप शर्मा ने डोटासरा-धारीवाल विवाद पर चुटकी ली है। - Dainik Bhaskar
धारीवाल के बयान के बाद कोटा दक्षिण से बीजेपी विधायक संदीप शर्मा ने डोटासरा-धारीवाल विवाद पर चुटकी ली है।

UDH मंत्री शांति धारीवाल की कैबिनेट बैठक में PCC चीफ गोविंद डोटासरा से हुई तकरार के बाद भाजपा विधायक संदीप शर्मा ने धारीवाल पर तंज कसा है। धारीवाल ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि हम दोनों के बीच कोई विवाद नहीं है। यह सहमति या अहसमति का मामला हो सकता है। इस पर कोटा दक्षिण से BJP विधायक संदीप शर्मा ने कहा कि कांग्रेस संगठन में कुश्ती दंगल हो रहा है, जो अखाड़े में बदलता जा रहा है। पहले गहलोत-पायलट की लड़ाई देखी। सीनियर मंत्रियों ने इस्तीफे दे दिए। विधायकों की सुनवाई नही हो रही। इनके लड़ाई- झगड़ों का दंश प्रदेश की जनता ने भुगत रही है।

उन्होंने कहा कि अब PCC चीफ व UDH मंत्री के बीच केबिनेट बैठक में गर्मा गरमी हुई है। इससे साफ जाहिर होता है कि कांग्रेस में सत्ता और संगठन में कोई सामंजस्य नहीं है। न संस्कार है न ही विचार हैं। मीडिया में कितनी ही सफाई दे दें कि भाई-भाई हैं। इनके सत्ता-संगठन के विचार मेल नहीं खा रहे हैं। नेताओं की आपसी लड़ाई, खींचतान, विवाद से जनता का नुकसान हो रहा है। इनके लड़ाई के संस्कार जग जाहिर हैं।

कोविड मैनेजमेंट में पूरी तरह फेल सरकार

संदीप शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार, कोविड प्रबंधन में पूरी तरह फेल हुई है। लोगों को इलाज नहीं मिला, सरकारी अस्पतालों में लोगों को जगह नहीं मिली। प्राइवेट अस्पतालों में लोगों का पैसा खर्च हुआ। कई लोगों के मकान व गहने बिक गए, उसके बाद भी लोगों की जान नहीं बच पाई।

विफलताओं को केंद्र पर थोपने की कोशिशें

संदीप शर्मा कहा कि महामारी के दौरान ऑक्सीजन की किल्लत रही, राज्य सरकार रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध नहीं करा पाई। बल्कि अपनी विफलताओं को केंद्र सरकार पर डालने की कोशिश की। केंद्र सरकार द्वारा सारे संसाधन उपलब्ध कराए गए। चाहे वेंटिलेटर हो, मेडिकल कॉलेज के लिए दी गई राशि हो या खाद्य सामग्री हो। प्रदेश सरकार इन संसाधनों का पूरी तरीके से उपयोग नहीं कर पाई।

संदीप शर्मा ने धारीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि वो गरीबों का बिल्कुल ध्यान नहीं रख पाए। 50 सालों से जो अपने परिवार को पाल रहे थे,उन्हें विकास के नाम पर बेरोजगार कर दिया। वे विकास के नाम पर केवल अपने फोटो लगे बोर्ड देखना चाहते हैं। जो भी काम हो रहे हैं, उनका टारगेट यही है कि वे किसी भी तरह उनका औपचारिक उद्घाटन नई सरकार आने से पहले कर दें, चाहे वह पूरा हो या नहीं।

खबरें और भी हैं...