पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,Court Sentenced To 4 Years For The Then Patwari Accused Of Demanding Bribe In Lieu Of Land Allotment

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रिश्वतखोर को 4 साल की सजा:ACB ने 15 हजार की घूस लेते पटवारी को पकड़ा था, 14 साल बाद कोर्ट ने सुनाई सजा

कोटा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोर्ट ने दोषी पटवारी को 4 साल की सजा सुनाई है। - Dainik Bhaskar
कोर्ट ने दोषी पटवारी को 4 साल की सजा सुनाई है।

जमीन अलॉटमेंट करवाने की एवज में रिश्वत मांगने की 14 साल पुराने मामले में एसीबी कोर्ट ने दोषी को सजा सुनाई है। भ्रष्टाचार निवारण न्यायालय के न्यायाधीश प्रमोद कुमार मलिक ने आरोपी तत्कालीन पटवारी बृजमोहन नागर हल्का पटवार, परानिया जिला बारां को 4 साल कठोर कारावास व 70 हजार के अर्थदण्ड से दंडित किया है।

60 वर्षीय निलंबित पटवारी बृजमोहन नागर इसी साल रिटायर्ड होने वाला था। इससे पहले आरोपी पटवारी द्वारा राजस्व वसूली की 1 लाख 42 हजार 307 रुपए की राशि को राजकोष में जमा नहीं करवाकर करीब 1 माह से अपने पास रखने के मामले में एसीबी कोर्ट ने आरोपी पटवारी को 2019 में भी 5 साल की सजा भी सुनाई गई थी।

कोर्ट ने टिप्पणी में लिखा कि जनतांत्रिक प्रशासन में किसी भी व्यवस्था को संचालित करने का दायित्व लोक सेवकों पर होता है। यदि लोकसेवक भ्रष्ट हो जाए तो राष्ट्र की जड़ें कमजोर हो जाती है जिसका असर राष्ट्र के विकास पर पड़ता है।

वर्तमान में मुलजिम के विरुद्ध अपराध की प्रकृति एवं मामले के तथ्यों को देखते हुए वर्तमान समय में समाज में भ्रष्टाचार के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। भ्रष्टाचार करने वाले अपराधियों में इस प्रकार के अपराधों के दंड के प्रति कोई भय नहीं होना जाहिर होता है।

सहायक निदेशक अभियोजन अशोक कुमार जोशी ने बताया परिवादी जाफर हुसैन ने 25 मई 2006 को बारां एसीबी में शिकायत दी थी। जिसमें बताया कि घटटा के माल में 20 बीघा जमीन पर 30 सालों से काबिज है। ग्राम पंचायत परानिया में राजस्व शिविर लगने जा रहा है। शिविर में 20 बीघा जमीन उसके परिवार वालों के नाम कराना चाहता था। इस काम के लिए पटवारी बृजमोहन से मिला। बृजमोहन ने जमीन का अलॉटमेंट हेतु नाम भिजवाने के लिए प्रति बीघा 3 हजार रुपये बताया और कुल 60 हजार की रिश्वत मांगी।

शिकायत के बाद एसीबी ने सत्यापन करवाया ओर ट्रैप की कार्रवाई को अंजाम दिया। 26 मई 2006 को एसीबी ने पटवारी को 15 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा। रिश्वत की राशि आरोपी की पेंट की जेब से बरामद की।एसीबी में आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में चालान पेश किया था। बुधवार को एसीबी कोर्ट ने मामले में फैसला सुनाते हुए तत्कालीन पटवारी बृजमोहन को 4 साल कठोर कारावास व 70 हजार के अर्थदण्ड से दंडित किया

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser