पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,Demand To Restart Keshavaraipatan's Sugar Mill, Which Was Closed For 17 Years, Farmers Demonstrated Outside The Divisional Commissioner's Office

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों का धरना:17 साल से बंद पड़ी केशवरायपाटन शुगर मिल को दोबारा चालू करने की मांग; किसानों ने संभागीय आयुक्त कार्यालय के बाहर किया प्रदर्शन

कोटा3 महीने पहले
बंद पड़ी शुगर मिल को दोबारा चालू करवाने की मांग। पिछले 12 दिन से केशवरायपाटन के किसान आंदोलन कर रहे हैं।
  • किसानों के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री के नाम सम्भागीय आयुक्त को ज्ञापन सौपा।
  • शुगर मिल चालू होने से हाड़ौती सम्भाग के युवाओं को रोजगार मिलेगा: चन्द्रकान्ता मेघवाल

बूंदी जिले के केशवरायपाटन में 17 साल से बंद पड़ी शुगर मिल को दोबारा चालू करवाने की मांग जोर पकड़ने लगी है। पिछले 12 दिन से केशवरायपाटन के किसान आंदोलन कर रहे हैं। आज भी किसानों ने सम्भागीय आयुक्त कार्यालय के बाहर धरना, प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन में केशवरायपाटन से बीजेपी विधायक चंद्रकांता मेघवाल भी शामिल हुई। किसानों के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री के नाम सम्भागीय आयुक्त को ज्ञापन सौपा।

सरकार को किसानों की चिंता नहीं-चन्द्रकान्ता

विधायक चन्द्रकान्ता मेघवाल ने कहा कि शुगर मिल चालू नहीं करके केशवरायपाटन की जनता के साथ धोखा किया जा रहा है। एक तरफ तो सरकार नए नए कार्यक्रम चलाकर रोजगार देने की बात कह रही है। वहीं दूसरी और शुगर मिल चालू कराने को लेकर सरकार गंभीर नहीं है। जबकि शुगर मिल चालू होने से हाड़ौती सम्भाग के युवाओं को रोजगार मिलेगा। ऐसा लगता है कि सरकार को किसानों की चिंता नहीं है। सरकार को किसानों की मांग पर विचार करना चाहिए। यदि समय रहते सरकार ने किसानों की मांग पर ध्यान नहीं दिया तो आंदोलन तेज किया जाएगा।

2003 से बंद है शुगर मिल

किसान नेता दशरथ सिंह ने बताया कि बूंदी जिले के केशवरायपाटन में साल 2003 से शुगर मिल बंद पड़ी है। शुगर मिल की अपनी करीब 150 से 170 बीघा जमीन है। वहीं खाते में 15 से 20 करोड़ रुपए पड़े हैं। उसके बाद भी सरकार इसे चालू नहीं करने का कारण नहीं बता पा रही। इसे दोबारा शुरू कराने के लिए किसान लंबे समय से संघर्ष कर रहे हैं लेकिन नेताओं में इच्छा शक्ति का अभाव है। शुगर मिल के दोबारा चालू होने से सैंकड़ों बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिलेगा। उसके बाद भी सरकार किसानों की पीड़ा नहीं समझ रही है। उन्होंने कहा कि जो भी पार्टी किसानों की मांग का समर्थन नहीं करेगी। उस पार्टी को किसान आगामी चुनाव में सबक सिखाएंगे।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

और पढ़ें