पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,Dhariwal Said In A Press Conference In Kota There Is No Dispute Between Us, PCC Chief, My Friend, There Can Be Mutual Consent disagreement, Said The Blame On The Media Media Entertains With Such News

डोटासरा से विवाद पर धारीवाल की सफाई:कहा- हमारे बीच कोई झगड़ा नहीं, घर में असहमति हो सकती है; ये सब मीडिया की बनाई हुई बातें

कोटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोटा में प्रेसवार्ता करते हुए UDH मंत्री शांति धारीवाल । - Dainik Bhaskar
कोटा में प्रेसवार्ता करते हुए UDH मंत्री शांति धारीवाल ।

UDH मंत्री शांति धारीवाल ने कैबिनेट बैठक में हुई PCC चीफ गोविंद डोटासरा से तकरार पर शनिवार को सफाई दी। कोटा पहुंचे धारीवाल ने कहा कि ऐसी खबरें मीडिया में मनोरंजन के लिए हैं। मेरे और डोटासरा के बीच अच्छी मित्रता है। घर के सदस्यों में आपसी सहमति-असहमति हो सकती है।

धारीवाल ने कहा कि PCC चीफ के आदेशों का पालन जरूर होगा। मुझे कोटा और लालचंद कटारिया को अजमेर जाना था। धारीवाल ने सफाई के दौरान विवाद का ठीकरा मीडिया पर फोड़ने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि मीडिया ने ही बात का बतंगड़ बनाया है। इस तरह की खबरों से मीडिया मनोरंजन करता है। डोटासरा के सोनिया गांधी को शिकायत के सवाल पर धारीवाल ने कहा कि ये सब मीडिया की बनाई बातें हैं।

वैक्सीनेशन पर केंद्र पर साधने लगे निशाना
शनिवार को अपनी सफाई में की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में विवाद पर अपनी बात कहने के साथ ही धारीवाल ने वैक्सीन के मामले पर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। धारीवाल ने केंद्र पर आरोप लगाया कि सरकार ने इंतजाम ठीक नहीं किए। BJP को बंगाल चुनाव की चिंता ज्यादा थी। विदेशों में छवि चमकाने के लिए वैक्सीन को बाहर भेज दी गई। देश के नागरिकों को वैक्सीन उपलब्ध नहीं करवाई गई। उन्होंने कहा कि वैक्सीन मिलती तो लोगों की जान बच जाती।

एआईसीसी के डायरेक्शन से PC

यूडीएच मंत्री धारीवाल ने कहा कि कोविड प्रबंधन के बारे में लोगों को बताना जरुरी है। ये कोई सरकारी प्रेसवार्ता (पीसी) नहीं हैं' ये तो पीसी तो अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के डायरेक्शन से हो रही है। प्रधानमंत्री ने आसाम-बंगाल विधान सभा चुनावों में देश से फ्री वैक्सीन का वादा किया था। राज्यों की सरकारों को गफलत में रखा। बाद में राज्यों को खुद बंदोबस्त करने को कह दिया। धारीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री और केंद्र सरकार के कुप्रबंधन से लाखों मौतें हुई है। कोई भी राज्य सरकार अपने स्तर पर वैक्सीन का खर्चा उठाती है तो 30 से 40 प्रतिशत खर्च आता फिर अन्य स्वास्थ्य सेवाओं का खर्च कैसे उठाते।

विदेश मंत्री को भीख का कटोरा लेकर अमेरिका भेजा

धारीवाल ने कहा कि प्रदेश में 5 दिनों से 18 साल से ज्यादा के युवाओं के लिये वैक्सीन की 1 डोज भी नहीं है। अब तो कोर्ट भी कह चुका, केंद्र सरकार, राज्यो को वैक्सीन उपलब्ध करावें। धारीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री खुद, प्रधानमंत्री सहित केंद्र के मंत्रियों से बात करते रहे, तो भी वैक्सीन नहीं मिली। धारीवाल ने केंद्र और राज्यों को वैक्सीन की अलग अलग दरों पर भी सवाल उठाए। धारीवाल ने कहा कि पाकिस्तान जैसा छोटा सा देश मदद की बात कहने को तैयार हो गया इससे ज्यादा शर्म की बात क्या हो सकती है। आपने विदेश मंत्री को भीख का कटोरा लेकर मदद मांगने अमेरिका भेज दिया। रशिया चले गए सब जगह घूमते फिर रहे है, ये हालात है।

प्रदेश के सभी 25 सांसद इस्तीफा दे

मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि कोटा में ब्लैक फंगस से 14 मौतें हुई है। केवल शनिवार को ही 4 ने दम तोड़ा है। इंजेक्शन-दवा के अभाव में लोगों को दम तोड़ते देखना ह्दयविदारक है। राज्य में रोज 5 हजार से ऊपर इंजेक्शन की जरूरत है। राज्य को 23 दिन में 12 हजार 555 इजेक्शन मिले है। प्रदेश में जो हालात हुए है, उसके लिए 25 सांसद जिम्मेदार है। इनकी आंखों के सामने मौतें हो रही है। ये सांसद केन्द्र पर दबाव बनाकर दवा-इंजेक्शन दिलाने में नाकाम रहे है। कांग्रेस पार्टी राजस्थान के सभी 25 सांसदों से इस्तीफे की मांग करती है।

खबरें और भी हैं...