पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,Every 8th Sample Positive, 6 Areas Found Most Infected, Active Cases Increased By 5 Percent, Recovery Rate Reduced By 5 Percent, Medical College Hospital Kovid Declared Dedicated

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोटा में कोरोना:हर 8 वां सैंपल पॉजिटिव, 6 इलाकों में सबसे ज्यादा संक्रमित मिले, एक्टिव केस 5% हुए, रिकवरी दर 5% घटी, मेडिकल कॉलेज अस्पताल कोविड डेडिकेटेड घोषित

कोटा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। धीरे-धीरे हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। एक बार फिर पिछले साल के नवम्बर-दिसम्बर जैसे हालात बनते जा रहे हैं। कोरोना संक्रमण रोज रिकॉर्ड बना रहा है। शहर के हर हिस्से से संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। चिकित्सा विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, 1 जनवरी से 5 अप्रैल तक औसत हर 8वां सौंपल पॉजिटिव मिला है। चिकित्सा विभाग ने जनवरी से 5 अप्रैल तक 95 दिन में 45 हजार 960 सौंपल की जांच की, जिनमें से 3 हजार 642 लोग संक्रमित मिले हैं। यानि औसत रोज 484 सैंपल की जांच में 38 लोग पॉजिटिव मिले हैं।

सबसे ज्यादा महावीर नगर में 762 व दादाबाड़ी में 557 लोग पॉजिटिव मिले हैं
सबसे ज्यादा महावीर नगर में 762 व दादाबाड़ी में 557 लोग पॉजिटिव मिले हैं

6 इलाके में ज्यादा संक्रमित

चिकित्सा विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, जनवरी से 5 अप्रैल के बीच शहर के 6 इलाकों में 300 से ज्यादा संक्रमित लोग मिले हैं। इनमें सबसे ज्यादा महावीर नगर में 762 व दादाबाड़ी में 557 लोग पॉजिटिव मिले हैं। इन इलाकों में पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी के करीब है।

शहर के 7 इलाके ऐसे हैं, जहां कोरोना के 50 से कम केस मिले हैं। हालांकि यहां जांच भी कम हुई है।
शहर के 7 इलाके ऐसे हैं, जहां कोरोना के 50 से कम केस मिले हैं। हालांकि यहां जांच भी कम हुई है।

7 इलाकों में असर कम

शहर के 7 इलाके ऐसे हैं, जहां कोरोना के 50 से कम केस मिले हैं। हालांकि यहां सैंपलिंग भी कम हुई है। कोरोना की पहली लहर में छावनी इलाका हॉट स्पॉट बना था। लेकिन नए साल की शुरुआत से अबतक इस इलाके में सबसे कम 4 पॉजिटिव केस मिले हैं। चिकित्सा विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, यहां सबसे कम 51 सैंपलिंग हुई है। केशवपुरा में 108 सैंपल में से 7,अनन्तपुरा में 378 सैंपल में से 10 पॉजिटिव सामने आए हैं।

जनवरी से 5 अप्रैल के बीच शहर के तीन इलाकों में 5 हजार से अधिक सैंपलिंग हुई है
जनवरी से 5 अप्रैल के बीच शहर के तीन इलाकों में 5 हजार से अधिक सैंपलिंग हुई है

इन इलाकों में सबसे ज्यादा सैँपलिंग

जनवरी से 5 अप्रैल के बीच शहर के तीन इलाकों में 5 हजार से अधिक सैंपलिंग हुई है। इनमें सबसे ज्यादा महावीर नगर में 7626, विज्ञान नगर में 5249 विज्ञान नगर व दादाबाड़ी में 5004 लोगों के सैँपल की जांच हुई है। कुन्हाड़ी में 4733, बोरखेड़ा में 3755, डीसीएम में 3153 व रामपुरा में 3047 लोगों की सैंपलिंग हुई। वहीं शॉपिंग सेंटर में 2922, भीम गंज मंडी में 2695 व रंगबाड़ी में 2068 टेस्ट हुए।

जिले में एक्टिव केस का प्रतिशत 5.87 जा पहुंचा है।
जिले में एक्टिव केस का प्रतिशत 5.87 जा पहुंचा है।

5 फीसदी हुए एक्टिव केस

जिले में एक्टिव केस की संख्या एक बार फिर बढ़ गई है। जिले में 26 मार्च को 511 एक्टिव केस थे, जो 11 दिन में 823 बढ़कर 1334 जा पहुंचे है। एक्टिव केस के मामले में कोटा प्रदेश में चौथे स्थान पर है। जिले में एक्टिव केस का प्रतिशत 5.87 जा पहुंचा है, जबकि फरवरी माह में जिले में 1.57% एक्टिव केस थे।

रिकवरी दर घटी

जिले में एक समय रिकवरी दर 99% तक जा पहुंची थी। 15 मार्च के बाद यह घटती गई। वर्तमान में जिले में रिकवरी दर 5 प्रतिशत घटकर 93.35 प्रतिशत हो गई है। जिले में अबतक 22692 कोरोना पॉजिटिव में से 21185 लोग ठीक हो चुके हैं। मंगलवार को भी 120 मरीज ठीक हुए, जबकि 173 मरीजों की मौत हो चुकी है।

जनवरी का रिकॉर्ड टूटा, 6 दिन में 1199 केस आए

जिले में लगातार 7 वें दिन संक्रमितों का आंकड़ा 100 के पार रहा है। स्टेट से जारी रिपोर्ट में मंगलवार को 161 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए, जबकि कोविड अस्पताल में भर्ती दो मरीजों ने दम तोड़ दिया। कोरोना संक्रमण ने जनवरी का रिकॉर्ड तोड़ा है। जनवरी माह में कुल 1164 कोरोना पॉजिटिव केस मिले थे। अप्रैल के 6 दिन में ही संक्रमित का आंकड़ा 1199 जा पहुंचा है। यानि अप्रैल के 6 दिन में औसत रोज 200 लोग संक्रमण की चपेट में आए हैं, जबकि जनवरी माह में औसत रोज 38 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे।

मेडिकल कॉलेज अस्पताल कोविड डेडिकेटेड घोषित

संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने से कोविड डेडिकेटेड अस्पताल फुल हो गया है। हालातों से निपटने के लिए मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक (एसएसबी) व नए अस्पताल को कोविड-19 के संभावित संक्रमित मरीजों व आइसोलेशन के लिए रिजर्व किया है। नए अस्पताल व सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक में संचालित सभी विभागों के आउटडोर, इनडोर व ओपीडी सेवाओं को अस्थायी तौर पर अग्रिम आदेश तक एमबीएस अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। नए अस्पताल में कोविड ओपीडी व डे केयर पहले की तरह नए अस्पताल के जिरियाट्रिक सेंटर में संचालित किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

और पढ़ें