• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,In An Attempt To Escape From The Police, He Jumped From The Moving Train, Accused Of Cheating Lying Near The 5 hour Trek, Arrested From Haryana, Goa Police

पुलिस को चकमा दे चलती ट्रेन से कूदा:5 घंटे ट्रैक पर पड़ा रहा, सिर, हाथ-पैर में गंभीर चोटें; हरियाणा से गिरफ्तार कर राजधानी से ले जा रही थी गोवा पुलिस

कोटा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी शमशेर सिंह (30) को कोटा के एमबीएस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। - Dainik Bhaskar
आरोपी शमशेर सिंह (30) को कोटा के एमबीएस अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

धोखाधड़ी के एक आरोपी ने ट्रेन में पुलिस कस्टडी से भाग गया। वह पुलिस जवानों को चकमा देकर चलती ट्रेन से कूद गया। लेकिन, भागने के चक्कर में अब वह चलने लायक भी नहीं रह गया। तेज रफ्तार ट्रेन से कूदने के कारण उसके सिर, हाथ- पैर में गंभीर चोटें आई हैं। वह करीब 5 घंटे तक ट्रैक पर पड़ा रहा। बाद में स्थानीय लोगों की सूचना पर आरपीएफ ने उसे कोटा के एमबीएस अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसकी हालत गंभीर है। आरोपी का नाम शमशेर सिंह (30) है। धोखाधड़ी के एक मामले में गोवा पुलिस उसे हरियाणा के भिवानी से गिरफ्तार करके ट्रांजिट रिमांड पर गोवा राजधानी से गोवा ले जा रही थी।

आरोपी कूदा, गोवा पुलिस को भनक तक नहीं लगी
गोवा पुलिस के एक सब इंस्पेक्टर और 3 कांस्टेबल शमशेर को कस्टडी में शनिवार को गोवा ले जा रहे थे। राजधानी के सेकंड एसी में इन सभी का टिकट था। शमशेर ऊपर की सीट पर बैठा हुआ था। कोटा में ट्रेन का स्टाप रहता है। ऐसे में 4-5 किमी पहले गुड़ला के पास ट्रेन की स्पीड कुछ कम हुई। कोटा स्टेशन में उतरने वाले यात्री गेट के पास आने लगे। इसी दौरान मौका पाकर शमशेर भी ऊपर की सीट से चुपचाप उतरकर गेट के पास आया और चलती ट्रेन से कूद गया। गोवा पुलिस को इसकी भनक नहीं लगी। कोटा में स्टाप के बाद जब राजधानी 60 किमी. दूर रामगंजमंडी पहुंची तो गोवा पुलिस जवानों को शमशेर के भागने का पता चला। उन्होंने पहले ट्रेन में उसकी तलाश की, फिर टीटी से संपर्क करके ट्रेन को रुकवाया और वापस कोटा आए।

पहले खुद तलाश किया, फिर जीआरपी को बताया
गोवा पुलिस ने पहले खुद ही कोटा स्टेशन के आसपास शमशेर की तलाश की। फिर शाम को 5 बजे तक जीआरपी को सूचना दी। इसके बाद जीआरपी ने स्टेशन में लगे सीसीटीवी चेक किए, लेकिन फुटेज में आरोपी नजर नहीं आया। इसके बाद जीआरपी ने आरपीएफ से इस बारे में पूछा। पता चला कि एक युवक गुड़ला में ट्रैक किनारे घायल पड़ा हुआ मिला था। उसे एमबीएस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसके बाद गोवा पुलिस अस्पताल पहुंची और शमशेर की पहचान की।

जीआरपी ने दर्ज किया मामला
गोवा पुलिस ने कोटा जीआरपी में आरोपी शमशेर के खिलाफ पुलिस कस्टडी से भागने का मुकदमा दर्ज कराया है। फिलहाल, आरोपी की हालत ठीक नहीं है। उसे ठीक होने के बाद गोवा पुलिस फिर से रिमांड में लेकर गोवा ले जाएगी। फिलहाल, इस मामले में गोवा पुलिस की भी बड़ी लापरवाही सामने आई है। आरोपी के भागने के करीब एक घंटे बाद पुलिस को इसका पता चल पाया।