• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,Traders Troubled By Police Action Met IG, Said Police Should Not Cut Challans Of Traders Facing Financial Hardship

अनलॉक में दर्द छलका:पुलिस कार्रवाई से परेशान व्यापारी IG से मिले, कहा आर्थिक मार झेल रहे व्यापारियों के चालान न काटे पुलिस

कोटा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
व्यापारियों ने शाम को आईजी निवास पर पहुंचकर अपनी पीड़ा बयां की। और पुलिस चालान की कार्रवाई में राहत देने की मांग की - Dainik Bhaskar
व्यापारियों ने शाम को आईजी निवास पर पहुंचकर अपनी पीड़ा बयां की। और पुलिस चालान की कार्रवाई में राहत देने की मांग की

अनलॉक में सुबह 6 से 11 बजे तक बाजार खुलने के बाद भी व्यापारी परेशान है। व्यापारियों का आरोप है कि शहर में चल रहे निर्माण कार्यो के कारण जाम लगने व पुलिस द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के उल्लंघन करने पर चालान बनाने से व्यापारियों पर आर्थिक मार पड़ रही है।

व्यापारियों ने शाम को आईजी निवास पर पहुंचकर अपनी पीड़ा बताई। पुलिस चालान की कार्रवाई में राहत देने की मांग की। जीएमए प्लाजा अध्यक्ष राकेश जैन, गुमानपुरा व्यापार संघ अध्यक्ष संजय शर्मा, रंगबाड़ी रोड केशवपुरा व्यापार संघ अध्यक्ष जितेंद्र सोनी, अध्यक्ष हाडौती केटर्स ने अन्य व्यापारियों ने पुलिस महानिरीक्षक से मिलकर ज्ञापन दिया है।

राकेश जैन ने बताया कि कोरोना गाइडलाइन की पालना में लगभग 46 दिन बाद व्यापारियों द्वारा दुकानें खोली गई थीं। शहर में हर तरफ़ निर्माण कार्य चालू होने के साथ सभी ट्रेड के व्यापारियों की दुकानों को खोलने एवं बंद होने का समय एक ही होने से ट्रेफिक जाम हो जाता है। व्यापारी, ग्राहक व कर्मचारियों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में बहुत समय लगता है। पुलिस द्वारा ज्वाला तोप ,सरोवर टाकीज़, जयपुर गोल्डन के यहां से निकलने वाले निजी वाहनों को सुबह 10 बजे से ही रोक दिया जाता है, जिससे सभी परेशान हैं।

वहीं, व्यापारी सुबह आकर दुकानों में गोले बनाएं, उससे पहले पुलिस चालान बना देती है।व्यापारी गोले बना भी दे, तो वर्तमान में आंधी तूफ़ान बारिश व गंदगी, कीचड़ की वजह से गोले मिल रहे हैं। व्यापारी द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग की पालना का पूरा ध्यान रखा जाता है। व्यापारियों ने मांग की है कि पहले ही आर्थिक मार से व्यापारी बुरी तरह पीड़ित हैं। ऐसे में चालान जैसी कार्रवाई नहीं करके व्यापारियों को मानसिक मार से राहत दी जाए।

खबरें और भी हैं...