पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

CMHO के फर्जी साइन कर बनाया एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट:जिसके जरिए नौकरी हासिल करने की कोशिश मे जुटे थे, 2 साल बाद पुलिस ने 2 युवकों को दबोचा

कोटा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र बनाकर नौकरी हासिल करने के प्रयास के मामले में गिरफ्तार आरोपी। - Dainik Bhaskar
फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र बनाकर नौकरी हासिल करने के प्रयास के मामले में गिरफ्तार आरोपी।

फर्जी एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट बनाकर नौकरी हासिल करने के प्रयास के मामले में नयापुरा थाना पुलिस ने दो युवकों को पकड़ा है। दोनों आरोपी संदीप कुमार (27) व आशीष कुमार (27) थाना बानसूर जिला अलवर के निवासी है। दोनों आरोपियों ने प्रयोगशाला सहायक सीधी भर्ती परीक्षा के लिए तत्कालीन CMHO डॉ आरके लवानिया के साइन स्कैन कर फर्जी एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट बनाया था। जिसके जरिए लगाकर नौकरी हासिल करने की कोशिश की जा रही थी।

नयापुरा थाना सीआई भवानी सिंह ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा प्रयोगशाला सहायक की सीधी भर्ती 2018 में निकाली थी। जिसमें संदीप व आशीष ने भी आवेदन किया था। भर्ती प्रक्रियाधीन होने के दौरान आवेदन फार्म की दुबारा जांच के लिए वर्तमान CMHO डॉ बीएस तंवर ने कमेटी बनाई थी। कमेटी की जांच में दोनों युवकों के अनुभव प्रमाण पत्र फर्जी निकले थे।

उन्होंने बताया कि अनुभव प्रमाण पत्र पर तत्कालीन CMHO डॉ आरके लवानिया के साइन थे। प्रकरण की शिकायत वर्तमान CHMO डॉ बीएस तंवर ने नयापुरा थाने में की थी। मामले में FSL जांच रिपोर्ट में तत्कालीन CMHO के फर्जी पाए गए। इन्होंने तत्कालीन CMHO के साइन स्कैन करके फर्जी तरीके से अनुभव प्रमाण पत्र लगाया था जिस पर दोनों युवकों को गिरफ्तार किया है। दोनों युवक प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे थे।

खबरें और भी हैं...