पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Kota,rajasthan,The Court Sentenced The Then Constable, Accused Of Seeking Bribe, To 3 Years In Prison Without Threatening To Close The Station Without Filing A Case.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

घूसखोर को सजा:बिना मुकदमा दर्ज हुए थाने में बंद करने की धमकी देकर रिश्वत मांगने वाला कांस्टेबल अब 3 साल रहेगा जेल में

कोटा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसीबी कोर्ट - Dainik Bhaskar
एसीबी कोर्ट

भ्रष्टाचार निवारण न्यायालय ने रिश्वत मांगने के करीब 10 साल पुराने मामले में अंता थाने के तत्कालीन कांस्टेबल को सजा सुनाई है। न्यायाधीश प्रमोद कुमार मलिक ने लाल सिंह को 3 साल कठोर कारावास व 50 हजार के अर्थदंड से दंडित किया है। उसने बिना मुकदमा दर्ज हुए परिवादी को थाने में बंद करने की धमकी देकर रिश्वत ली थी।

सहायक निदेशक अभियोजन अशोक कुमार जोशी ने बताया 2 अप्रैल 2010 को धतुरिया पीएस अंता निवासी ब्रज बिहारी ने एसीबी बारा में शिकायत की थी। बताया गया था कि अंता थाने के सिपाही लाल सिंह ने गांव आकर उससे कहा कि तेरे खिलाफ बालाखेड़ा के गांव वालों ने एसपी साहब को शिकायत दी है। गांव वालों ने कहा है कि तू चोरियां करता है। जांच मुझे दी है। बचना है तो 10 हजार रुपए देने पड़ेंगे, नहीं तो बंद करेंगे। डर के मारे ब्रज बिहारी की पत्नी रमाबाई, कांस्टेबल लालचंद को 3 हजार रुपये अंता में सीसवाली चौराहे पर देकर आई। उसके बाद सिपाही 5 हजार और मांग रहा है। हाथ-पैर जोड़े तो 4 हजार घूस लेने को राजी हुआ।

शिकायत के बाद बारां एसीबी ने मामले का सत्यापन कराया। शिकायत सही पाई गई। एसीबी ने जाल बिछाया और 8 अप्रैल को कांस्टेबल को परिवादी से 4 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। जांच में सामने आया था कि जिस परिवाद को लेकर कांस्टेबल परिवादी को थाने में बंद करने की धमकी देकर रिश्वत मांग रहा था, ऐसा कोई परिवाद, प्रकरण व जांच पुलिस थाना अंता जिला बारा में पेंडिंग नहीं था।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

और पढ़ें