मौत के बाद अकाउंट से हड़पे रुपए:मकान मालिक के बेटे ने चैकबुक चुराई, बैंक के चपरासी से मिलकर 5 बार में 15.90 लाख निकाले

कोटा6 महीने पहले
मृत व्यक्ति के खाते से लाखों रूपए निकालने के मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

शहर की गुमानपुरा थाना पुलिस ने मृत व्यक्ति के खाते से लाखों रूपए निकालने का मामला सामने आया है। इस मामले में 3 आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने व्यक्ति की मौत के बाद उसकी चैक बुक से 5 बार में 15 लाख 90 हजार की रकम निकाली थी। पुलिस ने इस मामले में मकान मालिक के बेटे, SBI बैंक के चपरासी समेत तीन को गिरफ्तार किया है।

गुमानपुरा थाना सीआई लखन लाल मीणा ने बताया कि 20 नवम्बर 2020 को पाटनपोल निवासी पवन की अधरशिला दादाबाड़ी इलाके में अकाल मौत हो गई थी। पविन, जलदाय विभाग रामगंजमंडी में कनिष्ठ लिपिक के पद पर कार्य था। अविवाहित होने के कारण 20-25 साल से वो शिवपुरा निवासी नरेंद्र गौतम के मकान में किराए से रहता था। उसका SBI बैंक की एरोड्रम शाखा में बचत खाता था। 20 नवम्बर को पवन की मौत होने के बाद उसके खाते से 5 बार में 15 लाख 90 हजार रूपए निकाले गए। जिसकी शिकायत 3 अगस्त 2021 पवन के भाई आनंद सिंह (महावीर नगर) ने गुमानपुरा थाने में की थी।

शिकायत के बाद पुलिस ने मामले की पड़ताल की। बैंक से रिकॉर्ड खंगालने पर पता चला कि पवन की मौत होने के दूसरे दिन 13 नवम्बर 2020 को उसके खाते से 4 लाख 20 हजार, 20 नवम्बर को 3 लाख 50 हजार , 8 दिसंबर को 3 लाख 50 हजार, 16 दिसंबर को 3 लाख 50 हजार व 21 दिसंबर को 1 लाख 90 हजार रूपए की निकासी हुई। कुल 15 लाख 90 हजार रूपए चैक के जरिए बैंक से निकाले गए।

ऐसे आए पकड़ में
5 बार में 15 लाख 90 हजार रूपए निकालने के बाद आरोपियों ने एक खाते में चैक के जरिए 1 लाख 90 हजार रूपए जमा करवाए। ये खाता अमर गुप्ता के नाम से था। पुलिस ने अमर गुप्ता से पूछताछ की तो सारे मामला साफ हुआ। पूछताछ में अमर गुप्ता ने प्रशांत गौतम व मनोज के साथ मिलकर रुपए निकालने की बात कबूली। अमर गुप्ता (43) के खिलाफ शहर के थानों में 13 मामले दर्ज है। बताया जा रहा है कि मकान मालिक नरेंद्र गौतम के बेटे प्रशांत (27) ने पवन की मौत के बाद उसकी चैक बुक अपने पास रख ली थी। फिर SBI बैंक के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी मनोज तंवर (46) के साथ मिलकर मृतक पवन के खाते से लाखों रुपए निकाले। पुलिस तीनों आरोपियों से रकम बरामदगी के बारे में पूछताछ में जुटी है।