डॉक्टर बनने का सपना हुआ साकार:कोटा में सबसे बड़े एमबीबीएस एडमिशन एक्सपो का आयोजन

कोटा7 महीने पहले
एमबीबीएस एडमिशन एक्सपो

एमबीबीएस एक्सपो 2022 का आयोजन कोटा में हुआ। आयोजक प्रिया मल्होत्रा ने बताया कि आपके डॉक्टर बनने के सपने को यहां साकार किया गया और कई बच्चों ने मौके पर ही एडमिशन की प्रक्रिया को पूरा किया। लोगों की हर समस्या का समाधान एक ही जगह पर किया गया और वहां पर सही सलाह दी गई। उन्होंने कहा कि एक्सपो में टॉप यूनिवर्सिटी के प्रतिनिधि, वीसी व अन्य कॉर्डिनेटर ने भाग लिया। इस दौरान मल्होत्रा ने बताया कि पांच देशों की 20 यूनिवर्सिटी ने यहां भाग लिया और जो बच्चा डॉक्टर बनना चाहता है, उनकी हर समस्या का मौके पर ही समाधान किया गया।

कोटा में आयोजित एक्सपो में रूस, बांग्लादेश, अर्मेनिया, गयाना और बार्बाडोस देशों की यूनिवर्सिटी कोटा पहुंची। इसके साथ ही कोटा व आसपास के क्षेत्रों से डॉक्टर बनने का सपना देख रहे छात्र और उनके अभिभावक भी पहुंचे। उनके मन में जो भी शंकाएं थी उनका समाधान किया गया। प्रिया मल्होत्रा का कहना है कि देश में 16 लाख बच्चे नीट का एग्जाम देते है, उनमें से 90 हजार सीटें हैं। क्वालीफाई 7 लाख बच्चे करते हैं, उनमें से 6 लाख बच्चे ऐसे हैं जो प्राइवेट सेक्टर में जाते है, विदेश जाते हैं। ऐसे ही बच्चों को सही दिशा देने का कार्य किया जा रहा है।

आर्थिक दृष्टि से कमजोर लोगों की भी करते हैं मदद

उन्होंने कहा कि रूस एजुकेशन व एजुकेशन एब्रोड कम्पनी मिलकर बच्चों की हर संभव मदद करते हैं। उनको एजुकेशन लोन, वीजा, पासपोर्ट और जो भी डॉक्यूमेंट की परेशानी होती है, उसका समाधान किया जाता है। इसके साथ ही आर्थिक दृष्टि से कमजोर बच्चों की भी हर संभव मदद की जाती है। उन्होंने कहा कि भारत में इस समय पांच हजार से अधिक बच्चे इन यूनिवर्सिटी से पास आउट होकर प्रेक्टिस कर रहे हैं। ये ही नहीं अमेरिका, रशिया सहित कई बड़े देशों में भी डॉक्टर प्रैक्टिस कर रहे हैं। जाने माने जीव विज्ञान शोधकर्ता डॉ. एनके शर्मा ने कहा कि डॉक्टर बनने और भविष्य बनाने के लिए ये एक्सपो मील का पत्थर साबित होगा और इसमें हजारों एमबीबीएस करने के इच्छुक लाभान्वित होंगे।