पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस ने सुबह के समय बरती सख्ती:दोपहर को हुई नरम, जरूरी काम वालों को जाने दिया

कोटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोटा शहर के केशवपुरा चौराहे पर लोगों से पूछताछ करती पुलिस। - Dainik Bhaskar
कोटा शहर के केशवपुरा चौराहे पर लोगों से पूछताछ करती पुलिस।
  • सख्त लॉकडाउन के पहले दिन पर भास्कर की ग्राउंड रिपोर्ट: शाम को बारिश से कम हुआ आवागमन

कोटा में लॉकडाउन के पहले दिन सोमवार को सुबह से ही पुलिस की काफी सख्ती शुरू हो गई। हर खास और आम को रोक-रोककर पूछताछ की गई और जरूरी काम वालों को जाने दिया। कई लोगों को पुलिस ने वापस लौटाया, कई के चालान किए तो कई को क्वारेंटाइन कर दिया। 712 लोगों ने लॉकडाउन तोड़ा।

सुबह 11 बजे तक खाने-पीने के सामान और अन्य जरूरत की वस्तुओं की दुकानें खोले जाने की छूट थी, इसलिए बाजारों में रोजाना की तरह लोगों की आवाजाही रही। पुलिस घूमने का कारणाें का पता करती रही। दोपहर तक तो पुलिस भी नरम हो गई। रोका-टोकी बिल्कुल खत्म सी हो गई।

नाकों पर से पुलिस चली गई और बे रोक-टोक लोग यहां-वहां आते-जाते नजर आए। दाेपहर बाद बाजारों में तो सन्नाटा पसरा रहा, लेकिन सड़कों पर लोगों की आवाजाही नजर आई। वहीं, शाम को इंद्र देव ने बारिश करके शहर में एक बार फिर लॉकडाउन लगा दिया। पुलिस ने शहर में लोगों की आवाजाही सीमित रखने के लिए कई जगह नाके बनाए गए है।

बैरिकेड्स लगाकर एक तरफा यातायात किया हुआ है। केशवपुरा चौराहा, जवाहर नगर चौराहा, सीएडी सर्किल, कोटड़ी सर्किल ,नयापुरा सर्किल, ज्वाला तोप सहित अन्य जगहों पर पुलिस मुस्तैद रही। वहीं, वाहन चालक कोई ना कोई कारण बताकर इधर से उधर जाने में लगा है। ऐसे लोगों से निपटने के लिए पुलिस को मशक्कत करनी पड़ रही है। सुबह के समय दुकानों पर भीड़ नजर आई।

कोटड़ी चौराहा : पुलिस हर व्यक्ति से कर रही थी पूछताछ, सख्ती जारी

यहां पर लॉकडाउन के पहले दिन सुबह 10 से 12 के बीच पुलिस की सख्ती नजर आई। हर व्यक्ति से पूछताछ की गई और बिना कारण आने-जाने नहीं दिया गया। यहां पर सुबह थानाधिकारी खुद तैनात थे। इसके बाद एएसआई मेघराज ने कमान संभाली और सख्ती बरकरार रही।

सख्त लॉकडाउन के बीच सड़क पर निकले वाले ज्यादातर लोग वैक्सीन लगवाने व अस्पताल जाने को निकल रहे थे। पूछताछ के बाद ही पुलिस ऐसे लोगों को आगे जाने की परमिशन दे रही थी। जबकि बेवजह घूमने वालों के वाहन जब्त किए और चालान काटे।

केशवपुरा चौराहा: डीएसपी से संभाला मोर्चा
केशवपुरा चौराहे पर डीएसपी मुकुल शर्मा भारी जाब्ते के साथ मोर्चा संभाले हुए नजर आए। सुबह 11 बजे से 1 बजे तक डीएसपी ने यहां पर लोगों से पूछताछ की और रोका-टोकी जारी रही। जिसके बाद यहां पर थाने का जाब्ता लगा दिया गया। थाने का जाब्ता भी यहां पर शाम तक तैनात नजर आया और लोगों से बराबर पूछताछ की जा रही थी। उनसे बाहर निकलने का कारण जाना जा रहा था।
किशोरपुरा: नाके से गायब दिखी पुलिस
किशोरपुरा थाने के ठीक सामने बनाएं गए पुलिस नाके खाली दिखे। यह नाका पुराने कोटा और नदी पार को नए कोटा से जोड़ने का काम करता हैं। यहां टेंट के नीचे रखी कुर्सियां खाली पड़ी थी। बेरिकेड्स के सामने कहां पर भी पुलिस मौजूद नहीं थी। लोगों की आवाजाही जारी थी। भास्कर रिपोर्टर दोपहर 12.50 बजे यहां से निकला और रोककर फोटो लिए, लेकिन कोई यहां नहीं था। कोई किसी को रोक-टोक नहीं रहा था।

खबरें और भी हैं...