पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोटा संभाग से उज्ज्वला योजना की ग्राउंड रिपोर्ट:9 महीने में ‌‌115 रुपए बढ़ गए एलपीजी गैस के दाम, सब्सिडी भी बंद उज्ज्वला योजना में 30 से 35%ने फिर सिलेंडर भरवाया ही नहीं

कोटा2 महीने पहलेलेखक: पंकज मित्तल
  • कॉपी लिंक
  • याेजना में शहरी क्षेत्राें में 60% से ज्यादा सिलेंडराें की सप्लाई है, जबकि ग्रामीण क्षेत्राें में 30 से 35% रिफलिंग नहीं
  • महंगाई से आम उपभोक्ता के घर का बजट भी बिगड़ गया

दिसंबर से सिलेंडर के दाम 715 रुपए तक पहुंचे गए और पिछले 9 महीने से सब्सिडी भी बंद है। ऐसे में इसका सीधा असर उज्ज्वला याेजना के कनेक्शनों पर दिख रहा है। केवल 50 फीसदी लाेग सालभर में एक या दाे सिलेंडर ही ले रहे हैं जबकि 30 से 35% तो ऐसे लोग हैं, जिन्होंने एक बार सिलेंडर लेने के बाद फिर दुबारा भरवाया ही नहीं। मार्च 2020 में 845 रुपए का घरेलू गैस सिलेंडर था। इस पर 245 रुपए सब्सिडी आती थी। जबकि अप्रैल 2020 से सिलेंडर 600 रुपए हुआ, लेकिन सब्सिडी बंद हो गई। 30 फीसदी से ज्यादा ने एक दाे बार के बाद सिलेंडर नहीं लिया।

दैनिक भास्कर ने संभाग के कोटा सहित बारां, बूंदी और झालावाड़ जिलों में दूर दराज के गांवाें में ग्राउंड पर जाकर हालात जाने तो उज्ज्वला योजना की ये हकीकत सामने आई। काेटा जिले में कुल 3.50 कनेक्शन हैं। इसमें 75 हजार बीपीएल श्रेणी के हैं। यहां करीब 2 लाख प्रति महीने सिलेंडर की आपूर्ति हाेती है। उज्ज्वला याेजना में शहरी क्षेत्राें में 60 फीसदी से ज्यादा सिलेंडराें की सप्लाई है, जबकि ग्रामीण क्षेत्राें में 30 से 40 और दूर दराज के गांवाें में 10 से 15 फीसदी ही सिलेंडर जा रहे हैं।

ऐसे बढ़ते गए दाम

  • मार्च में 845 का घरेलू सिलेंडर था। 245 सब्सिडी थी।
  • अप्रैल से सिलेंडर 600 रुपए हुआ, सब्सिडी बंद।
  • मई में दाम नहीं बढ़े
  • जून में 12 रुपए बढ़कर 612 का हुआ।
  • जुलाई में 3 रुपए बढ़कर 615 का हुआ।
  • अगस्त, सितंबर, अक्टूबर और नवंबर में दाम नहीं बढ़े।
  • दिसंबर में दाे बार दाम बढ़े। 715 का हाे गया सिलेंडर।

याेजना में शहरी क्षेत्राें में 60% से ज्यादा सिलेंडराें की सप्लाई है, जबकि ग्रामीण क्षेत्राें में 30 से 35% रिफलिंग नहीं

  1. मनोहरथाना की ममता बाई ने बताया कि सिलेंडर महंगे हाे गए हैं। हम नहीं खरीद पाते हैं। लॉकडाउन में 3 महीने गैस के रुपए खाते में डाले तब सिलेंडर भरवाया। अब रुपए मिलने बंद हो गए गैस नहीं भरवा पा रहे हैं।
  2. बारां की खजूरी निवासी गायत्री बाई ने बताया कि उज्ज्वला का कनेक्शन तो है, लेकिन महंगा सिलेंडर खरीद नहीं पा रहे हैं। गांव में आसानी से लकड़ी मिल जाती है, इसलिए खाना चूल्हे पर ही बना रहे हैं।
  3. माटूंदा निवासी माया बताती हैं कि बरसात में जब लकड़ियां गीली हो जाती हैं या बहुत जरूरी होता है तो ही रसोई गैस जलाती हैं, बाकी वक्त गार के चूल्हे पर ही खाना बनाती हैं। सिलेंडर के लिए पैसा नहीं है।

यह है सिलेंडर लेने का गणित
गैस एजेंसी डीलर एसाेसिएशन के अध्यक्ष अरविंद गुप्ता का कहना है कि उज्ज्वला याेजना में फ्री का सिलेंडर मिलता है ताे 70% लाेग सिलेंडर ले लेते हैं। 20% दाे या तीन महीने में एक बार ले रहे हैं। 40% सालभर में एक या दाे सिलेंडर ही लेते हैं। 35% ताे बिलकुल ही नहीं ले रहे हैं।
यह थी योजना : प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत सरकार गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को घरेलू रसोई गैस (एलपीजी) कनेक्शन निशुल्क दिए। इसे 1 मई 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया में लॉन्‍च किया गया था। देश में 8 कराेड़ कनेक्शन देने थे।
प्रदेश में 66 लाख उपभाेक्ता : सरकार ने काेराेना के चलते याेजना में 3-3 महीने के लिए सिलेंडर फ्री में दिए। 1.11 कराेड़ सिलेंडर दिए जाने थे, लेकिन 1.03 कराेड़ सिलेंडरों की ही बुकिंग हुई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें