पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ट्रांसफर:मुकंदरा: 80% फॉरेस्ट गार्ड ने तबादले के लिए किया आवेदन

काेटा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्टाफ कम और काम अधिक होने से परेशान है कर्मी

प्रदेश के तीसरे टाइगर रिजर्व में पिछले दिनाें बाघाें की माैत के बाद अब नए बाघ नहीं आ रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर यहां स्वीकृत पाेस्ट में से 50 फीसदी स्टाफ यहां कार्यरत हैं। इनमें से भी करीब 80 प्रतिशत फाॅरेस्ट गार्ड ने तबादलाें के लिए ऑनलाइन आवेदन कर दिया है। रिजर्व के सभी रेंज से दूसरे जिलाें के फाॅरेस्ट गार्ड ने डीसीएफ काे डाक से ऑनलाइन फाॅर्मेट भरकर आवेदन भिजवाए हैं।

इन पर डीसीएफ की अनुशंषा हाेनी हैं। लेकिन, खाली पद हाेने से डीसीएफ द्वारा अनुशंषा करना संभव नहीं हाेगा। ऐसे में फाॅरेस्ट गार्ड से लेकर रेंजर और अन्य वनकर्मियाें का तबादला संभव नहीं है। वहीं, दूसरी ओर मुकंदरा में अधिकारियाें के प्रेशर से लेकर सुविधाओं में कमी और प्राेजेक्ट, मैश अलाउंस नहीं मिलने सहित अन्य कई तरह की समस्याओं से वनकर्मी परेशान है।
विभाग तबादलाें की प्राेसेस में करे बदलाव
रिजर्व कर्मचारी संघ के अध्यक्ष मनेश कुमार ने कहा कि विभाग मेंं पहले ऑनलाइन की प्रक्रिया नहीं थी। वनकर्मी अपने स्तर पर तबादला करवा लेता था। लेकिन, अब इस प्रक्रिया काे बदलना चाहिए। वन विभाग में पाेस्टिंग हाेने वाले वनकर्मी काे 5 साल के लिए वन्यजीव, टाइगर रिजर्व में पाेस्टिंग देनी चाहिए। पांच साल बाद विभाग में तबादले की प्राेसेस हाेनी चाहिए। वनकर्मियाें काे समुचित सुविधाएं मिलनी चाहिए। इस बार तबादला में डीसीएफ की अनुशंसा मांगी है।

सभी रेंज से तबादलाें के लिए आवेदन आए हैं। अभी संख्या का पता नहीं हैं। लेकिन, मुकंदरा में पहले से ही 50 फीसदी पाेस्ट खाली हैं। एेसे में अनुशंषा करना संभव नहीं है।-बीजाे जाेय, डीसीएफ मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें