• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Nikhil Murder Accused On 7 day Remand, Police Will Recover Mobile, Gold Chain, Ring, Rope Used In The Crime And Other Items Kota Rajasthan

निखिल हत्याकांड के आरोपी 7 दिन की रिमांड पर:मोबाइल, सोने की चेन-अंगूठी, वारदात में इस्तेमाल रस्सी समेत अन्य सामान बरामद करेगी पुलिस

कोटा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोर्ट ने तीनों आरोपियों को 7 दिन के रिमांड पर भेजा। - Dainik Bhaskar
कोर्ट ने तीनों आरोपियों को 7 दिन के रिमांड पर भेजा।

निखिल टेकवानी हत्याकांड के आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से कोर्ट ने तीनों आरोपियों को 7 दिन के रिमांड पर भेजा। पुलिस अब आरोपियों से लूट का सामान मोबाइल,सोने की चेन, अंगूठी, हाथ घड़ी वारदात में इस्तेमाल रस्सी समेत अन्य चीजें बरामद करेगी। साथ ही हत्या के बाद आरोपी किस रूट से दाढ़ देवी के जंगल में गए इस सबंध में पूछताछ कर घटनास्थल पर जाकर छानबीन करेगी।कोर्ट में पेशी के दौरान आरोपियों के चेहरे झुके हुए नजर आए। मीडिया को देखते ही चेहरे छिपाने लगे।

आरोपियों ने निखिल की बेहरमी से हत्या की थी।
आरोपियों ने निखिल की बेहरमी से हत्या की थी।

बेरहमी से हत्या की थी

आरोपियों ने निखिल की बेहरमी से हत्या की थी।शव जलने व पुराना होने से काला पड़ चुका था। FIR के मुताबिक निखिल के पिता ने कद काठी, हाथ के बड़े हुए नाखून,अंडरवियर के एलास्टिक से शव की शिनाख्त की थी। निखिल की जेब में पर्स भी रखा हुआ था। जिसमें आईडी,क्रेडिट कार्ड व डेबिट कार्ड थे। जो नहीं मिले।

सिंधु सोशल सर्किल ने बार एसोशिएशन को पत्र लिखा

निखिल हत्याकांड से सिंधी समाज में रोष है। सिंधु सोशल सर्किल ने कोटा बार एसोशिएशन को पत्र लिखा है। जिसमें वकीलों से आरोपियों का केस नहीं लड़ने आग्रह किया है। साथ ही आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने में सहयोग करने की मांग की है।

ये था मामला

आरोपी आयुष मीणा (21) ने 13 अगस्त को फोन कर निखिल को बुलाया था। रात को करीब 8 बजे निखिल मोबाइल डिलीवरी देने कार से गया। जिसके बाद घर नहीं लौटा। परिजनों ने किशोरपुरा थाने में गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। इधर 13 अगस्त की रात को ही आरोपियों ने निखिल की रस्सी से गलाघोंट कर हत्या कर दी। फिर आयुष, अजय व महेश तीनों आरोपी निखिल की लाश को ठिकाने लगाने के लिए गाड़ी में रखकर 5-6 घंटे घूमते रहे।

14 अगस्त की सुबह दाढ़ देवी के जंगल में गए। वहां निखिल के शव को ठिकाने लगाया। निखिल की कार को भी वहीं छोड़ दिया। 15 अगस्त को आरोपी फिर से दाढ़ देवी के जंगल मे गए। निखिल की कार को आग लगाई। साथ ही शव को जलाकर सबूत मिटाने का प्रयास किया। 16 अगस्त को दाढ़ देवी के जंगल में पुलिस को निखिल की जली हुई कार मिली।निखिल का शव कार से साढ़े तीन किलोमीटर दूर मिला। शव जला हुआ था। आरोपियो ने निखिल के पास से एपल के मोबाइल,सोने की चेन, अंगूठी, एप्पल की घड़ी समेत 5 लाख की लूट की वारदात की थी।

खबरें और भी हैं...