पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही पड़ेगी भारी:क्वारेंटाइन से बचने के लिए लोग समय का पता नहीं लगा... जैसे कई तरह के बहाने बना रहे हैं

कोटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर पुलिस द्वारा शहर में बेवजह बाहर घूमने वाले लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर में बंद किया जा रहा है। ऐसे में लोग भी तरह-तरह के बहाने बना रहे हैं, लेकिन उनकी एक नहीं चल रही है। पुलिस उन्हें पकड़कर सोफिया स्कूल में संस्थागत क्वारेंटाइन कर रही है। सेंटर इंचार्ज डीएसपी अंकित जैन ने बताया कि यह योजना सोमवार से शुरू हुई थी।

अब तक पुलिस ने 5 दिनों में 234 लोगों को पकड़कर बंद किया जा चुका है। हमारा प्रयास रहता है कि तुरंत एक दिन में टेस्ट होकर अगले दिन रिपोर्ट आ जाए। ऐसे में अब यहां पर 22 लोग बचे हैं, जो क्वारेंटाइन हैं। बाकी लोगों को छोड़ा जा चुका हैं। यह 22 लोग शुक्रवार को ही आए हैं।

इन तीन मामलों से समझें कैसे बहाने बना रहे
1. मैं तो यूं ही घूमने आ गया...: लॉकडाउन के दौरान बिना काम के घूमते हुए जवाहर नगर में एक युवक को पकड़ा। पूछने पर कोई काम नहीं बताया। बोला- मैं तो घूमने आ गया... जिसके बाद इसें क्वारेंटाइन किया गया।

2. दोस्त के घर जा रहा हूं... केशवपुरा चौराहे के पास एक युवक को पकड़ा। पकड़ते ही हाथ जोड़ने लगा और कहा कि गलती हो गई, अब नहीं निकलूंगा। काम तो कोई भी नहीं था, बस दोस्त के घर जा रहा था।
3. टाइम का पता नहीं चला...: शहर की एक नामी कोचिंग संस्थान की फैकल्टी को पुलिस ने पकड़ा। रोका तो बोला कि अभी तो समय बाकी है, लेकिन समय तो कब का निकल चुका था। उसे भी क्वारेंटाइन किया गया।

खबरें और भी हैं...