• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • People Standing On The Roofs In Kota Since Morning, Kites In The Sky, Reverberating Throughout The Day 'Yeh Kata'

सक्रांति की धूम:कोटा में सुबह से डटे छतों पर लोग, आसमान में पतंगे, दिनभर गूंजता रहा 'ये काटा'

कोटा6 दिन पहले
सुबह से डटे छतों पर लोग

कोटा में संक्रांति का पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया गया। सुबह से ही लोग घरों की छतों पर पहुंच गए और दिन भर पतंगबाजी का दौर चलता रहा। आसमान जहां पतंगों से अटा रहा तो वहीं शहर में ये काटा की आवाजें सुनाई देती रही। छतों पर डीजे से तेज गानों की धुनों ने पतंगबाजी के उत्साह को और बढ़ा दिया।

बच्चों ने थामी डोर।
बच्चों ने थामी डोर।

मौसम साफ होने के साथ ही छतों पर पतंग की डोर बच्चों से लेकर बुजुर्गों व युवतियों से लेकर महिलाओं तक ने थामनी शुरू कर कर दी। चारों ओर डीजे पर गूंज रहे गीत- संगीत के बीच हर पेच के साथ होते हो- हुल्लड़ की मस्ती से माहौल सराबोर हो गया। वहीं मंदिरों में विशेष पूजन कर लोगों ने दान पुण्य किए। कोटा में परकोटा इलाके में पतंगबाजी का ज्यादा माहौल देखने को मिला। खासकर कैथूनीपोल, पाटनपोल, श्रीपुरा, घण्टाघर,भीमगंजमंडी, कुन्हाड़ी इलाके में लोग परिवार सहित पतंगबाजी का लुफ्त उठाते नजर आये।

परिवार के साथ पतंगबाजी का मजा
परिवार के साथ पतंगबाजी का मजा

रोक के बाद भी बिका चाइनीज मांझा

कोटा में संक्रांति पर लोगों ने पतंग उड़ाने के लिए चाइनीज मांझे का भी जमकर उपयोग किया। प्रशासन इसे लेकर सख्ती की बात करता रहा लेकिन असर कुछ देखने को नहीं मिला। इसके चलते कई पक्षियों के घायल होने की सूचनाएं भी सामने आई।