पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Police Leader Darshan Dash, Because In The Elections, The Leaders Without Masks Were Not Even Teased And Did Not Tease The Public By Deducting Challans For A Total Of 2.32 Crores Rupees.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ये गलत है:पुलिस काे नेता दृष्टि दाेष, क्योंकि चुनाव में बिना मास्क घूम रहे नेताओं को छेड़ा तक नहीं और ‌कुल 2.32 कराेड़ रूपए के चालान काटते हुए जनता को छाेड़ा नहीं

कोटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निगम चुनाव में वोट मांग रहे प्रत्याशी का ये फोटो देखें, इनके पास नहीं है मास्क लगाने की फुर्सत

भाजपा के दिग्गज नेता किरण माहेश्वरी और सीपी जोशी कोटा में निगम चुनावों के प्रचार के दाैरान काेराेना पाॅजिटिव हाे गए। कई कार्यकर्ता भी इसकी चपेट में आ चुके हैं। प्रचार के दाैरान मास्क और साेशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी के कारण ये नेता संक्रमित हुए। इनके पाॅजिटिव आने के बाद भास्कर ने शहर में काेराेना प्राेटाेकाॅल की पालना पर बड़ी पड़ताल की।

चाैंकाने वाली बात सामने आई कि पुलिस काे बिना मास्क के घूम रहे शहरवासी ताे नजर आ जाते हैं और वे उनका चालान काटने में व्यस्त हैं, लेकिन उन्हें चुनाव प्रचार के दाैरान मास्क व साेशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी करने वाले प्रत्याशी व समर्थक नजर नहीं आते। शायद इसी कारण अभी तक पुलिस ने ऐसे एक भी नेता, प्रत्याशी का चालान नहीं काटा है।

शहर में राेज 188 ऐसे लोगाें का चालान काटा जा रहा है, जो मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग रखने जैसे नियमों का सार्वजनिक रूप से मखौल उड़ा रहे हैं। मार्च व अप्रैल में समझदारी दिखाने के बाद शहरवासी मई आते-आते कोरोना के नियमों को तोड़ने लगे तो पुलिस ने सख्ती शुरू की। 12 मई से पुलिस ने मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग के नियम तोड़ने पर चालान शुरू किए।

इसके बाद 14 अक्टूबर तक 155 दिनों में पुलिस ने 29 हजार 180 चालान बनाए। यानी साफ है कि रोज औसतन 188 लोग मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग रखने जैसे नियमों को तोड़ रहे हैं। इन चालानाें के रूप में हमारे शहरवासी कुल 2.32 करोड़ का फाइन भुगत चुके हैं।

ऐसे समझें 2.32 करोड़ के जुर्माने का गणित

शहरवासी नियमों को तोड़कर 2 करोड़ 32 लाख 11 हजार 600 रुपए पुलिस को दे चुके हैं। इसमें से 1 करोड़ 92 लाख 51 हजार 500 रुपए एमवी एक्ट के नियमों को तोड़ने पर दिए हैं। पुलिस ने 23 मार्च से 14 अक्टूबर तक कुल 66 हजार लोगों के चालान काटकर 6842 वाहनों को जब्त किया।

मास्क नहीं लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग नहीं रखने पर अब तक पुलिस ने जुर्माने के रूप में 39 लाख 60 हजार 100 रुपए वसूले हैं। ये जुर्माना राशि नियम तोड़ने वाले 29 हजार 180 लोगों ने भरी है। इसमें मास्क न लगाने पर 16 लाख 90 हजार 200 रुपए, दुकानदारों द्वारा मास्क न लगाकर व्यापार करने पर 2 लाख 16 हजार 500 और सामाजिक दूरी की पालना न करने पर सर्वाधिक 20.29 लाख रुपए के चालान काटे हैं।

कोरोना के सुपर स्प्रेडर बन गए हैं ऐसे लापरवाह लोग
चुनाव प्रचार के दाैरान शहर में कई जगह प्रत्याशी व उनके समर्थक बिना मास्क के घूमते रहते हैं, साेशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती रहती हैं, लेकिन पुलिस काे शायद ये सब दिखता नहीं है। इसी कारण ये प्रत्याशी व उनके समर्थक काेराेना के सुपर स्प्रेडर बनकर शहर में घूम रहे हैं और पुलिस हाथ पर हाथ बांधे खड़ी है।

कोरोना के इलाज से जुड़े डॉक्टर्स का कहना है कि चुनाव प्रचार के दौरान सभी को ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत होती है। ऐसे समय में प्रत्याशी व उसके समर्थक अलग-अलग इलाकों में जाकर कई लोगों से मिलते हैं। यदि कोई एक व्यक्ति भी संक्रमित मिल जाए, तो उससे मिलने वाले लोग सुपर स्प्रेडर बनकर बीमारी को आगे फैलाने का काम करेंगे।

नेताओं से भी समझाइश कर रहे हैं : डीआईजी

  • शहर में बिना मास्क के घूम रहे लाेगाें काे पुलिस समझा रही है। उन्हें बताया जा रहा है कि काेराेना से बचाव के लिए मास्क अभी सबसे बेहतर विकल्प है। हम शहर में जगह-जगह मास्क बांट भी रहे हैं। फिर भी जरूरत पड़ने पर सख्ती की जा रही है। जहां तक निगम चुनाव के प्रचार में जुटे प्रत्याशियाें व उनके समर्थकाें के चालान नहीं काटने की बात है, ताे इसका रिकाॅर्ड मैंने देखा नहीं है। इतना तय है कि हम उन्हें भी समझा रहे हैं कि प्रचार के दाैरान पूरी सावधानी बरतें। - रविदत्त गाैड़, डीआईजी काेटा रेंज

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें