• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Police 'naka' But Not 'captive' In Kota, Instead Of Getting Curfew Cradle, Policemen Kept Trying To Avoid Winter

सर्दी में पुलिस की सख्ती भी ठंडी:कोटा में पुलिस 'नाके' लेकिन 'बंदी' नहीं, कर्फ्यू की पालना करवाने के बजाय सर्दी से बचने का जुगत करते रहे पुलिसकर्मी

कोटा10 महीने पहले
चेक पॉइंट पर अलाव तापते पुलिसकर्मी।

रविवार को कर्फ्यू के दौरान बाजार बंद रहने के साथ-साथ बिना वजह घरों से बाहर निकलने पर भी रोक है। इसकी पालना के लिए पुलिस तमाम दावे कर रही थी लेकिन कोटा में पुलिस के दावे सर्दी के आगे फेल होते नजर आए।

कोटा में बिना वजह घरों से बाहर निकलने वालों की चेकिंग के लिए नाके तो लगा दिए गए लेकिन उनकी बंदी नहीं की जा सकी। यानी पुलिसकर्मियों की ड्यूटी तो नाको पर लगा दी गई लेकिन पुलिसकर्मी नाकों के पास ही अलाव जलाते नजर आए। केवल बेरिकेड्स लगाकर छोड़ दिये गए, लेकिन वहां से वाहनचालक बिना रोक टोक आते जाते रहे।

महावीर नगर चौराहे पर बैरिकेड लेकिन चेकिंग नहीं
महावीर नगर चौराहे पर बैरिकेड लेकिन चेकिंग नहीं

उन्हें रोककर बाहर निकलने का कारण तक नहीं पूछा गया। दरअसल कोटा में रविवार को मौसम में गिरावट रही। सुबह से तेज सर्दी का सितम जारी रहा। आलम ये कि दोपहर तक कोहरे की आगोश में शहर सिमटा रहा। ऐसे में कर्फ्यू की पालना करवाने की ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी भी चैकिंग छोड़ सर्दी से बचने का जतन करते नजर आए।

जाब्ता तैनात लेकिन सख्ती नहीं
जाब्ता तैनात लेकिन सख्ती नहीं

कई जगह जाप्ता लेकिन चेकिंग नहीं

कोटा में रविवार को ज्यादातर नाकों पर यही स्थिति नजर आई। जहां नाके पर 2-3 पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई और वे सर्दी से बचने का जतन करते नजर आए। हालांकि कई जगह पुलिस जाप्ता भी मौजूद रहे लेकिन निकल रहे वाहन चालकों को रोकने की जहमत नहीं उठाई।

रोकने से पहले सर्दी से बचाव जरूरी
रोकने से पहले सर्दी से बचाव जरूरी

दुकानें रहीं बंद, सर्दी ने किया पुलिस का काम

शहर में बाजार बंद रहे। दुकानदारों ने स्वतः ही दुकाने बंद रखी। बाकी शहर में बिना वजह निकलने वाले कम नहीं थे। हालांकि शहर में सर्दी के चलते ज्यादातर रोड पर कम ही वाहन नजर आए।