पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चतर गुर्जर हत्याकांड:चार हत्यारोपियों के करीब पहुंची पुलिस, पुलिस ने रातभर जागकर बदमाशों की तलाश में मारे छापे

कोटा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चतर गुर्जर की हत्या पूरी प्लानिंग के साथ की गई थी। मुख्य आरोपी दिलीप गुर्जर ने इसके लिए अपने ड्राइवर विशाल मीणा समेत 7 लोगों को बुलाया था। सातों ने एक साथ गुर्जर पर हमला बोला और घेरकर चाकुओं से बेरहमी से वार किए। तिल्ली व किडनी पर हुए घातक वार को चतर झेल नहीं सका और उसकी तड़प-तड़पकर मौत हो गई।

पुलिस ने मंगलवार पूरी रात और बुधवार दिन में सातों युवकों के ठिकानों पर कई बार दबिश दी। पुलिस सात में से चार बदमाशों के करीब है, जिन्हें किसी भी वक्त गिरफ्तार किया जा सकता है। वहीं, तीन बदमाशों को तलाशने में टीमें लगी हुई हैं, अहम सुराग हाथ लग चुके हैं।

अनंतपुरा सीआई देवेश भारद्वाज ने बताया कि अजय आहूजा नगर निवासी चतर गुर्जर को मंगलवार दोपहर दिलीप गुर्जर ने फोन से घर से बाहर बुलाया। जहां पहले से बैठे दिलीप के साथियों से उस पर लाठियों से हमला कर दिया व दिलीप ने उसकी पीठ में चाकू मारा। जिससे उसकी मौत हो गई।

किडनी पर चोट आने से हुई मौत : पुलिस ने बताया कि चतर की मौत तिल्ली व किडनी पर चोट आने से हुई थी। यहां चोट इतनी घातक थी कि वो सहन नहीं कर सका। काफी खून बहने व दोनों अंगों को काफी नुकसान पहुंचने से अस्पताल जाने तक रास्ते में ही उसकी सांसें रूकने लगी और कुछ समय बाद उसकी मौत हो गई।
पुलिस की कई टीमें आरोपियों के संभावित ठिकाने पर तलाश कर रही है। ज्यादातर को नामजद कर लिया गया है। हम कुछ बदमाशों के करीब पहुंच चुके हैं और उन्हें शीघ्र गिरफ्तार करेंगे। वहीं, कुछ आरोपियों के ठिकानों के बारे में भी अहम सबूत मिले है। जल्द ही सभी आरोपी गिरफ्तार होंगे। -देवेश भारद्वाज, सीआई अनंतपुरा

खबरें और भी हैं...