फेसबुक पर धर्म बदलकर दोस्ती, प्रिंस निकला अरमान:4 दिन नाबालिग को दोस्त के कमरे पर साथ रखा, शादी का झांसा

कोटा3 महीने पहले

फेसबुक पर 19 साल के अरमान उर्फ अरबाज ने प्रिंस बनकर 17 साल की नाबालिग से फ्रेंडशिप की। युवक ने लड़की को बताया कि उसके पिता बड़े बिजनेसमैन हैं। तीन साल तक दोनों फोन पर बात करते रहे। लड़की युवक की बातों में आ गई और उसके साथ चली गई। 4 दिन बाद लड़की लौटी और उसके बताए नंबर से लड़के के हिस्ट्री खंगाली तो पूरा मामला सामने आया। घटना कोटा के बोरखेड़ा थाना इलाके की है।

बाल कल्याण समिति रोस्टर सदस्य मधुबाला शर्मा ने बताया कि नाबालिग 17 साल की है। परिवार में मां-बाप के साथ एक बड़ा भाई है। परिवार कोटा के पास किसी गांव का रहने वाला है। बेटी 12वीं में पढ़ती है और 4 महीने पहले ही कोटा में आकर रहने लगे थे। लड़की की लड़के से तीन साल पहले फेसबुक पर दोस्ती हुई। लड़के ने अपना नाम प्रिंस बताया। इस बीच दोनों की फोन पर बातें होने लगी।

15 अक्टूबर को लड़की के मां-बाप बाहर गए हुए थे। शाम करीब 4 बजे वह मकान मालिक का मोबाइल लेकर बाजार आ गई थी। यहां से प्रिंस उसे अपने साथ सुकेत लेकर चला गया। जब नाबालिग शाम को घर नहीं पहुंची तो परिजन थाने पहुंचे और गुमशुदगी दर्ज करवाई थी।

लड़की को 4 दिन साथ रखा, शादी का झांसा दिया
सुकेत आने के बाद दोनों 4 दिन तक साथ रखे। प्रिंस ने सुकेत में दोस्त के कमरे पर रखा। उसने नाबालिग को बताया कि वह राजपूत है। ये भी कहा कि पिता की मार्बल फैक्ट्री है और होटल का बिजनेस है। नाबालिग को इसके फोटो भी दिखाए। प्रिंस ने शादी का झांसा दिया और कहा कि अपने घर से डॉक्युमेंट लेकर आ जाना। इस पर 18 अक्टूबर को शाम करीब 5 बजे नाबालिग को सुकेत से कोटा वाली बस में बैठा दिया। नयापुरा पहुंचने पर उसने अपने बड़े भाई को कॉल किया, जिसके बाद वह उसे घर ले आया।

भाई ने फोन नंबर से पड़ताल की तो सच सामने आया
कोटा आने पर परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने नाबालिग को डिटेन कर उसे बाल कल्याण समिति के सामने पेश किया गया। अभी उसे शेल्टर हाउस में भेजा गया है। घरवालों ने नाबालिग से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह झालावाड़ के बिजनेसमैन के लड़के से शादी करना चाहती है। दोनों एक-दूसरे को तीन साल से जानते हैं।

लड़की के भाई ने जब लड़के के नंबर के आधार पर तलाश की तो सामने आया कि जो लड़का अपना नाम प्रिंस बता रहा है उसका असली नाम अरमान उर्फ अरबाज है। लड़के ने फेसबुक पर फर्जी आईडी बना और धर्म छिपाकर नाबालिग से दोस्ती की।

इतना ही नहीं झालावाड़ के जिस होटल व्यवसायी को अपना पिता बताया उसका बेटा विदेश में पढ़ता है। मधुबाला शर्मा ने बताया कि पीड़िता ने 161 के बयान में सारी बात बताई है। लेकिन दुष्कर्म की बात से इनकार किया है। अभी उसके 164 के बयान व मेडिकल होना बाकी है। इसके बाद भी अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया जाएगा।